हिंदी में हदीस की बातें

Beautiful Hadees Collection in Hindi
एकजुट हो कर रहें। और सब मिलकर अल्लाह की रस्सी को मज़बूती से पकड़ लो [कुरआन ३:१०३]

एकजुट हो कर रहें। और सब मिलकर अल्लाह की रस्सी को मज़बूती से पकड़ लो [कुरआन ३:१०३]

एकजुट हो कर रहें। और सब मिलकर अल्लाह की रस्सी को मज़बूती से पकड़ लो और विभेद में न पड़ो। ( कुरआन ३:१०३ ) Ref:…

क्या वह लोग नहीं देखते कि हर साल मुसीबत में मुबितला किए जाते हैं फिर भी …

क्या वह लोग नहीं देखते कि हर साल मुसीबत में मुबितला किए जाते हैं फिर भी …

۞ बिस्मिल्लाह-हिर्रहमान-निर्रहीम ۞ ” क्या वह लोग (इतना भी) नहीं देखते कि हर साल एक मरतबा या दो मरतबा बला (मुसीबत) में मुबितला किए जाते…

शादी के बाद दूसरी औरतें खूबसूरत क्यों लगती है ?

शादी के बाद दूसरी औरतें खूबसूरत क्यों लगती है ?

एक शख्स एक तजुर्बा कार आलिमे दीन से अपना मसला दरयाफ़्त करते हुए कहने लगा : शुरू शुरू में जब मेरी बीवी मुझे पसंद आई…

Tum me se Behtareen Shakhs woh hai jisne Quraan sikhe aur dusro ko sikhaye

Tum me se Behtareen Shakhs woh hai jisne Quraan sikhe aur dusro ko sikhaye

۞ Bismillah-Hirrahman-Nirrahim ۞  ❖ Roman Urdu ❖ Farmane Rasool’Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) hai ke – ❝ Tum me se behtareen shakhs woh hai jisne Quraan…

Agar Tum Sabr karo aur Allah se darte raho tou [ Al-Quran; 3:120 ]

Agar Tum Sabr karo aur Allah se darte raho tou [ Al-Quran; 3:120 ]

۞ Bismillah-Hirrahman-Nirrahim ۞ Allah Ta’ala Quran-e-Kareem me farmata hai: “Agar Tum Sabr karo aur Allah se Darte raho tou Inn (Mushriko, Dushmanan-e-Deen) ka Makkar Tum…

धोकेबाजी से सावधान रहें।

धोकेबाजी से सावधान रहें।

धोकेबाजी से सावधान रहें। “झूठे वादे और चमक-धमक वाले उपहारों के द्वारा अनुचित कर्म करवाने का आह्वान करने वाले, दोस्त नहीं धोखेबाज हैं।” नकली संबंधों…

Jo Shakhs Juma ke din (apni biwi) ko Gusal karwaye aur khud bhi Gusal kare

Jo Shakhs Juma ke din (apni biwi) ko Gusal karwaye aur khud bhi Gusal kare

✦ Roman Urdu Hadith ✦ ۞ Hadees: Aws bin Aws (RaziAllahu Anhu) se riwayat hai ki RasoolAllah (ﷺ) ne farmaya: “jo shakhs juma ke din…

Allah Ta’ala ko Lagne waali Sabse Boori baat

Allah Ta’ala ko Lagne waali Sabse Boori baat

Hadith: Allah Ta’ala ko Lagne waali Sabse Boori baat Abdullah bin Masood (R.A.) se riwayat hai ki,RasoolAllah (Sallallahu Alaihi Wasallam) ne farmaya: “Allah Subhanhu Ta’ala…

वसीयत जरूर लिखे

वसीयत जरूर लिखे

रसूलल्लाह (सलाल्लाहू अलैही वसल्लम) ने इरशाद फ़रमाया: “किसी मुसलमान के पास कोई भी चीज़ हो(यानीकिसी का लेना-देना या उस के ज़िम्मे माली हुकूकहों) जिस की…

धर्म आत्मज्ञान के लिए है तथा आस्था, कर्म और संस्कृति का संगम जब होता है

धर्म आत्मज्ञान के लिए है तथा आस्था, कर्म और संस्कृति का संगम जब होता है

धर्म आत्मज्ञान के लिए है। “आस्था, कर्म और संस्कृति का संगम जब होता है तब धर्म प्रबुद्ध होता है। इन में से एक की भी…