Categories

हदीस शरीफ हिंदी में

हदीस शरीफ की बातें हिंदी में, हदीसे नबवी, हदीस और साइंस, हदीस की किताबें, बुखारी शरीफ, मुस्लिम शरीफ, इब्ने माजा, सुनन अबू दावूद, हदीस की तकरीर, हदीस ए मुबारक, इस्लामी हदीस की बातें, हदीस के बारे में जानकारी, हदीस और कुरान शरीफ की बातें।

Hadees in hindi, Islamic Status in Hindi, Islamic Status for Whatsapp in Hindi, Islamic Hadees in , Hadees e Nabvi in Hindi, Hadees Sharif in Hindi, Hadees ki Baatein in Hindi, Islamic Hadees in Hindi with Images, Islamic Status Hindi, Small Hadees Sharif in Hindi, Nabi ki Hadees Hindi, Islamic Whatsapp Status in Hindi, Islamic Quotes in Hindi

धर्म स्वैच्छिक है:  “धर्म में बल प्रयोग नहीं। सुपथ कुपथ से साफ-साफ अलग हो चुका है।” (कुरआन २:२५६) Ref: Wisdom Media School #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com

समझ भावना को संयम में लता है:  “विरोध समस्यावों के हल के लिए होना चाहिए, नई समस्याएं पैदा करने के लिए नहीं।”  [ कुरआन २:२५६ ]…

सुधार चाहिए दिल को।   “सुनिश्चत, अल्लाह आपके रूप या धन की ओर नहीं देखते; बल्कि देखते हैं आपके दिल और कर्म की ओर।” […

कहानी नहीं है ज़िन्दगी : “सिनेमा और धरावाहिक के मुताबिक ज़िन्दगी को मोडना मूर्खता है। सिनेमा की नाट्य नहीं बल्कि कच्चा तजुर्बा है ज़िन्दगी।” Ref:…

अवैध रिश्तों में खतरा : “अवैध/गैरकानूनी रिश्ते अनैतिक है। यह दो व्यक्तियों के पाप से बढकर, अनेक लोगों के पारिवारिक संबंध को नष्ट-भ्रष्ट करनेवाली सामाजिक…

अनिश्चित्व/ संदेह में शांति नहीं। “संदेह पैदा करनेवाले को छोड़कर निःसंदेह वाले को स्वीकार करें। सत्य शांति है और असत्य शंका।” (हजरत मुहम्मद ﷺ) Ref: Wisdom …

नशा खतरनाक है :   “थोड़ा भी खतरनाक है! ज़्यादा लेने पर मदहोशी देने वाले का थोड़ा भी निषिद्ध है।” [ पैगंबर मोहम्मद ﷺ ] Ref:…

۞ हदीस : अल्लाह के पैगम्बर (ﷺ) ने फ़रमाया : “अल्लाह के साथ शिर्क न करना अगरचे तुम टुकड़े टुकड़े कर दिए जाओ और जला…

कपट त्याग दें :   “तीन कार्य जिसमें है, वह सुनिश्चित कपटी है। झूठी बोली, वादा न निभाना और धोखेबाज होना” [ पैगंबर मोहम्मद ﷺ ]…

पैग़म्बर मुहम्मद (ﷺ) ने फ़रमाया: ❝ सताए हुए की आह से बचो, क्यूंकि उसके और अल्लाह के मध्य कोई रुकावट नहीं होती। ❞ 📕 बुख़ारी |…

हजरत अनस (र.अ) से रिवायत है के, अल्लाह के रसूल (ﷺ) ने फ़रमाया: “हर आने वाला ज़माना पहले ज़माने से बुरा होगा। “ [ बुखारी…

۞ हदीस : अल्लाह के नबी (ﷺ) ने फ़रमाया : “अजान और इक़ामत के बिच में दुआ रद्द नहीं की जाती, इसीलिए तुम दुआ करो।”…

प्रेम की पवित्रता:  विवाह से ही पवित्र प्रेम होता है। विवाह से पहले या बाद अवैध संबंध अनैतिक और विनाशकारी हैं।  Ref: Wisdom Media School…