11 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

11 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). गजवा-ऐ-बद्र, (2). हवा में निज़ामे कुदरत, (3). अपने घर वालों को नमाज़ का हुक्म देना, (4). खुश्बू को रद्द नहीं करना चाहिये, (5). सलाम करने पर नेकियाँ, (6). शराब, मुरदार और खिन्ज़ीर हराम है, (7). दुनिया की चीज़ों में गौर व फिक्र करना, (8). अहले जन्नत की नेअमतें, (9). आबे जमजम के फवाइद, (10). ऐ ईमान वालो तुम शैतान के नक्शे कदम पर न चलो …

8 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

8 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मदीना के कबाइल से हुजूर (ﷺ) का मुआहदा, (2). ख़ुशहाली आम होने की खबर देना, (3). गुस्ल में पूरे बदन पर पानी बहाना, (4). बच्चों को यह दुआ पढ़ कर दम करें, (5). पसंद के मुताबिक हदिया देना, (6). यतीमों का माल खाने का गुनाह , (7). दुनिया से बेहतर आख़िरत का घर है, (8). दोज़ख़ की दीवार, (9). सूरह बक़रह से इलाज, (10). अल्लाह तआला ने ज़ुल्म को हराम कर दिया है …

4. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

4. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). अज़ान की इब्तेदा, (2). हज़रत उमर (र.अ) के हक में दुआ, (3). नमाज़ के छोड़ने पर वईद, (4). बिजली कड़कने और बादल गरजने के वक़्त की दुआ, (5). मोमिन का ऐब छुपाना, (6). बुरे आमाल की नहूसत, (7). दुनियावी ज़िन्दगी धोका है, (8). जन्नत के दरख्तों की सुरीली आवाज़, (9). दुआए जिब्रईल से इलाज, (10). खाने में बरकत …

3. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

3. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मस्जिदे नबवी की तामीर, (2). गूलर के फल में अल्लाह की कुदरत, (3). शौहर के भाइयों से परदा, (4). इशा के बाद दो रकात नमाज पढना, (5). इंसाफ करने की फ़ज़ीलत, (6). चाँदी के बरतन में पीना, (7). दो चीज़ों की ख्वाहिश, (8). दोज़खियों का खाना, (9). बिमारियों का इलाज, (10). अल्लाह तआला के साथ किसी को शरीक न करो …

2. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

2. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मदीना मुनव्वरा, (2). आँखों की बीनाई का लौट आना, (3). नमाज़ छोड़ने का नुकसान, (4). बुरे लोगों की सोहबत से बचने की दुआ, (5). अल्लाह की राह में अपनी जवानी लगाने की फ़ज़ीलत, (6). रसूल (ﷺ) के हुक्म को न मानने का गुनाह, (7). हलाक करने वाली चीजें, (8). क़यामत के दिन खुश नसीब इन्सान, (9). आबे ज़म ज़म से इलाज, (10). बाएँ हाथ से ना खाएं और ना पियें …

1. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

1. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). वह मुबारक घर जहाँ आप (ﷺ) ने कयाम फर्माया, (2). इन्सान की पैदाइश तीन अंधेरों में, (3). अल्लाह तआला सबको दोबारा ज़िन्दा करेगा, (4). वुजू में तीन मर्तबा कुल्ली करना, (5). मुसलमान को कपड़ा पहनाने की फ़ज़ीलत, (6). वालिदैन की नाफरमानी और जुल्म करने का गुनाह, (7). दो आदतें, (8). जन्नती का दिल पाक व साफ होगा, (9). इलाज करने वालों के लिये अहम हिदायत, (10). वसिय्यत के लिए दो इंसाफ पसंद लोग गवाह हो। …

30. रबी उल आखिर

30. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मदीना में हुजूर (ﷺ) का इस्तिकबाल, (2). किला फतह होना, (3). वालिदैन के साथ एहसान का मामला करो, (4). घरवालों पर सवाब की नियत से खर्च करना भी सदक़ा है, (5). कुरआन का मजाक उड़ाना, (6). माल की मुहब्बत खुदा की नाशुक्री का सबब है, (7). हर शख्स मौत के बाद अफसोस करेगा, (8). तलबीना से इलाज, (9). औरतो से उनकी दिनदारी की वजह से निकाह करो …

28. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

28. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मदीना में हुजूर (ﷺ) का इन्तेज़ार, (2). हुजूर (ﷺ) की दुआ की बरकत, (3). बीवी को उस का महर देना, (4). अल्लाह से रेहम तलब करने की दुआ, (5). नमाज के लिये मस्जिद जाना, (6). इस्लाम की दावत को ठुकराना एक बड़ा जुल्म, (7). इन्सान की ख़सलत व मिजाज, (8). जन्नत का खेमा, (9). 99 बीमारियों की दवा, (10). आखरी रात में वित्र का मौका ना मिले तो शुरू में ही पढ़ ले …

27. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

27. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). ग़ारे सौर से हुजूर (ﷺ) की रवानगी, (2). साँस लेने का निज़ाम, (3). नमाजों को सही पढ़ने पर मगफिरत का वादा, (4). बीमारों की इयादत करना, (5). नमाज़ के लिये पैदल आना, (6). मस्जिद में दुनिया की बातें करने का गुनाह, (7). कयामत के हालात, (8). पछना के जरिये दर्द का इलाज, (9). आपस में झगड़ा न करो …

26. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

26. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हुजूर (ﷺ) ग़ारे सौर में, (2). ऊंटों के मुतअल्लिक़ खबर देना, (3). बीवी की विरासत में शौहर का हिस्सा, (4). मौत की सख्ती के वक़्त की दुआ, (5). वुजू कर के इमाम के साथ नमाज अदा करना, (6). कुफ्र की सज़ा जहन्नम है, (7). आखिरत दुनिया से बेहतर है, (8). हौजे कौसर की कैफियत, (9). बीमार को परहेज़ का हुक्म, (10). लोगों के लिये वही चीज पसंद करो जो तुम अपने लिये पसंद करते हो …

25. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

25. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हुजूर (ﷺ) की हिजरत, (2). गिजा और साँस की नालियाँ, (3). सूद से बचना, (4). इशा के बाद जल्दी सोना, (5). जमात के लिये मस्जिद जाना, (6). इजार या पैन्ट टखने से नीचे पहनना, (7). दुनिया से बेरग़वती का इनाम, (8). जन्नतियों का लिबास, (9). दाढ़ के दर्द का इलाज, (10). अमानत वालों को अमानतें वापस कर दिया करो …

24. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

24. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). नबी (ﷺ) को शहीद करने की नाकाम साजिश, (2). बकरी का दूध देना, (3). सज्द-ए-सहु करना, (4). बारिश के लिए यह दुआ मांगे, (5). घर से वुजू कर के मस्जिद जाना, (6). काफ़िर नाकाम होंगे, (7). लोगों की कंजूसी, (8). हौज़े कौसर क्या है ?, (9). वरम (सूजन) का इलाज, (10). किसी की मुसीबत पर खुशी का इजहार मत करो।

22. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

22. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). दूसरी बैते अक़बा, (2). हज़रत जाबिर (र.अ) के बाग़ की खजूरो में बरकत, (3). दीन-ऐ-इस्लाम में नमाज़ की अहमियत, (4). जन्नत हासिल करने के लिये दुआ करना, (5). हलाल कमाई से मस्जिद बनाना, (6). अच्छे और बुरे बराबर नहीं हो सकते, (7). दुनिया आरजी और आखिरत मुस्तकिल है, (8). हमेशा की जन्नत व जहन्नम, (9). खजूर से इलाज, (10). दीनदार औरत से निकाह करो।

19. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

19. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हज के मौसम में इस्लाम की दावत देना, (2). बहरे मय्यित (Dead Sea), (3). नमाज़ में इमाम की पैरवी करना, (4). सज्दा करने का सुन्नत का तरीका, (5). अज़ान के बाद दुआ पढ़ना, (6). ग़लत हदीस बयान करने की सज़ा, (7). थोड़ी सी रोज़ी पर राज़ी रहना, (8). जहन्नमियों का खाना, (9). निमोनिया का इलाज, (10). अल्लाह और उस के रसूल का हुक्म मानो

10 Rabi-ul-Akhir | Sirf Panch Minute ka Madarsa

10. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

मुसलमानों पर कुफ्फार का जुल्म व सितम, मोजज़ा: दरख्त का आप (ﷺ) की खिदमत में आना, एक फर्ज: अमानत का वापस करना, एक सुन्नत: मोहताजगी व जिल्लत से पनाह माँगना, एक अहेम अमल: हलाल रोज़ी हासिल करना, किसी के वालिदैन को बुरा भला कहने का गुनाह …

9 Rabi-ul-Akhir | Sirf Panch Minute ka Madarsa

9. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

कुफ्फार का हुजूर (ﷺ) को तकलीफें पहुंचाना, पत्तों में अल्लाह की कुदरत, इल्म हासिल करना जरूरी है, अमल : तहज्जुद की निय्यत कर के सोना, हराम माल से सदक़ा करने का गुनाह, दुनियावी ख्वाहिशों को पूरा करने का अंजाम …

8 Rabi Ul Akhir

8. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

रसूलुल्लाह (ﷺ) की चचा अबू तालिब से गुफ्तगू, नमाज़ छोड़ने पर वईद, नफा न पहुँचाने वाली नमाज़ से पनाह मांगना, अमल : जबान और शर्मगाह की हिफाजत करना, बुराई से न रोकने का वबाल, जख्म वगैरह का इलाज …

5 Rabi-ul-Akhir

5. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: पहली वही के बाद हुजूर (ﷺ) की हालत, हाथी में अल्लाह की क़ुदरत, कयामत के दिन सब से पहले नमाज़ का हिसाब, अमल : तीन आदमी अल्लाह की जमानत में है, जकात न देने का गुनाह, दुनिया को मक़सद बनाने का अंजाम …

1 Rabi-ul-Akhir | Sirf Panch Minute ka Madarsa

1. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हिलफुल फुजूल, (2). बिजली की कड़क, (3). जमात से नमाज़ अदा करना, (4). तीन साँस में पानी पीना, (5). बीवियों के साथ अच्छा सुलूक करना, (6). अजनबी औरत से मिलना, (7). मौत और माल की कमी से घबराना, (8). नामा-ए-आमाल के साथ बुलाया जाएगा, (9). हर बीमारी का इलाज, (10). फिजूलखर्ची मत किया करो।

24 Rabi-ul-Awal | Sirf Panch Minute ka Madarsa

24 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हुजूर (ﷺ) की पैदाइश के वक़्त दुनिया पर असर, एक फर्ज: सब से पहले नमाज़ का हिसाब होगा, एक सुन्नत: अच्छी मौत की दुआ, अल्लाह की दी हुई रोज़ी पर राज़ी रहने की फ़ज़ीलत, लड़की की पैदाइश को बुरा समझने का गुनाह, दुनिया का धोखा …

23 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

23 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: रसूलुल्लाह (ﷺ) की मुबारक पैदाइश, अल्लाह की कुदरत : अबाबील परिन्दा, वालिदैन के साथ अच्छा बर्ताव करना, खुशी के वक्त सज्द-ए-शुक्र अदा करना, मुतल्लका / बेवा बेटी की कफालत की फजीलत …

13 Rabi-ul-Awal | Sirf Panch Minute ka Madarsa

13 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: याजूज माजूज, अल्लाह की कुदरत : होंठ , वारिसीन के दर्मियान मीरास तक़सीम करना, तक़लीफ पर सब्र करना, बिला शरई उज्र के शौहर से तलाक़ मांगने का गुनाह …

12 Rabbi Ul Awwal

12 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: असहाबुल जन्नह (बाग़ वाले), जहन्नम के अज़ाब से बचने की दुआ, आँखों की बीनाई चले जाने पर सब्र करना, आँखों की बीनाई चले जाने पर सब्र करना, कम अज़ाब वाला दोज़खी …

11 Rabi-ul-Awal | Sirf Panch Minute ka Madarsa

11 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: क़ौमे सबा, अल्लाह की कुदरत: जानदारों के जिस्म में जोड़, फर्ज: बाजमात इंशा और फज्र की नमाज़ पढ़ना, सुन्नत: खाने में ऐब न लगाना, अपने अज़ीज़ की वफात पर सब्र करना …

10 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

10 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: असहाबुल क़रिया (बस्ती वाले), हुजूर (ﷺ) का मुअजिज़ा: जौ में बरकत, फर्ज: सज्द-ए-तिलावत अदा करना, सुन्नत: औलाद के लिये दुआ करना, दीन के खिलाफ साज़िश करने का गुनाह …

9 Rabbi Ul Awwal

9 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हज़रत ईसा (अ.स) का आसमान से उतरना, अल्लाह की कुदरत: ज़मीन की कशिश, फर्ज: वालिदैन के साथ एहसान का मामला करना, सुन्नत: हर अच्छे कामों को दाहनी तरफ से करना, मोमिनीन के लिये मग़फिरत मांगने की फ़ज़ीलत …

5 Rabi-ul-Awal | Sirf Panch Minute ka Madarsa

5 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत ईसा (अ.स) के हालात, अल्लाह की कुदरत: छूई मूई का पौधा (शर्मीली), एक फर्ज: क़ज़ा नमाज़ों की अदाएगी, एक सुन्नत: घर के काम में हाथ बटाना, लानत वाले गुनाह …

4 Rabi-ul-Awal | Sirf Panch Minute ka Madarsa

4 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत ईसा (अ.स) की पैदाइश, एक फर्ज: बीवी की विरासत में शौहर का हिस्सा, एक सुन्नत: मुसीबत से निजात की दुआ, अमल: मुलाक़ात के वक़्त सलाम व मुसाफा करना, क़ुरआन को छुपाने या बदलने का गुनाह …

3 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

3 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत मरयम (अ.स) की आज़माइश, अल्लाह की कुदरत: जिस्म में गुर्दे की अहमियत (Kidney), दरवाज़े पर सलाम करने की सुन्नत, अल्लाह के ज़िक्र की फ़ज़ीलत, मेहर अदा ना करने का गुनाह, मुत्तक़ी और परहेज़गारों का इनाम …

2 Rabbi Ul Awwal

2 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत ज़करिया (अ.स), अस्र की नमाज़ की फज़ीलत, मेहमान का अच्छे अलफाज़ से इस्तिकबाल करना, पड़ोसी के साथ अच्छा सुलूक करना, रसूलल्लाह (ﷺ) की नाफ़रमानी करने का गुनाह, अल्लाह और उसके बन्दों के हुकूक …

1 Rabbi Ul Awwal

1 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत ज़करिया (अ.स), अस्र की नमाज़ की फज़ीलत, मेहमान का अच्छे अलफाज़ से इस्तिकबाल करना, पड़ोसी के साथ अच्छा सुलूक करना, रसूलल्लाह (ﷺ) की नाफ़रमानी करने का गुनाह, अल्लाह और उसके बन्दों के हुकूक …

30. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

30. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत उज़ैर (अ.स), सज्दा-ए-सहव करना, मोमिन के हक़ में दुआ, बरकत वाला निकाह, रसूलुल्लाह (ﷺ) के हुक्म को ना मानने का गुनाह,जनाज़े को दफ़नाने में देर ना करो …