Browsing Category

सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा

Sirf Paanch Minute ka Madarsaहिंदी में सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा कुरआन और सुन्नत की रौशनी में।

इस्लामी तारीख,  हुजूर का मुअजिजा, एक फर्ज के बारे में, एक सुन्नत के बारे में, एक अहेम अमल की फजीलत, एक गुनाह के बारे में, दुनिया के बारे में, आख़िरत के बारे में, तिब्बे नबवी से इलाज, नबी की नसीहत

1. इस्लामी तारीख 2.अल्लाह की कुदरत 3. हुजूर (ﷺ) का मुअजिजा 4. एक फर्ज के बारे में

5. एक सुन्नत के बारे में 6. एक अहेम अमल की फजीलत 7. एक गुनाह के बारे में 8. दुनिया के बारे में 9. आख़िरत के बारे में 10. तिब्बे नबवी से इलाज

17 Rajjab | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत अबू उबैदह बिन जर्राह (र.अ), पानी अल्लाह की नेअमत, इल्म हासिल करना फ़र्ज़ है, रुखसत के वक्त मुसाफह करना, बेवा और मिस्कीन की मदद करने पर सवाब, पड़ोसी को सताने का गुनाह, ऐश व इशरत से बचना, मुजरिमों के खिलाफ आज़ा की गवाही, मुनक्का (Black…
Read More...

16 Rajjab | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत सईद बिन जैद (र.अ), टूटे हुए पैर का ठीक हो जाना, नमाज़ में किबला की तरफ रुख करना, खाने के बाद की दुआ, हर नमाज के बाद तसबीहे फातिमी पढ़ना, किसी पर तोहमत लगाना गुनाहे अज़ीम है, नेक आमाल के बदले दुनिया की रौनक चाहना, अहले जन्नत को…
Read More...

15 Rajjab | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत सअद बिन अबी वक्फास (र.अ) की करामत, नींद अल्लाह की अज़ीम नेअमत, नमाजे अस्र की अहमियत, सामने वाले की बात पूरी तवज्जोह से सुनना, मुसाफा करने की फ़ज़ीलत, सहाबा की सीरत को दागदार बनाने का गुनाह, बेजा जीनत से बचना, कयामत के रोज़ सब को जिंदा…
Read More...

6 Rajjab | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

दौरे फारुकी के अहेम कारनामे,मजलिस से उठने की दुआ, मुसलमान भाई के लिए दुआ करना, कुफ्र की सज़ा जहन्नम है, दुनिया का सामान चंद रोजा है...
Read More...

5 Rajjab | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

मोर की खूबसूरती, सुबह की नमाज़ अदा करने पर हिफ़ाज़त का जिम्मा, हाथ पाँव की उंगलियों का खिलाल करना, अल्लाह के वास्ते मुहब्बत करना, कर्ज अदा न करने का गुनाह, माल की हालत, जन्नत में मेहमान नवाजी, बीमारी से बचने की तदबीर, नेकी की नसीहत करो और…
Read More...

4 Rajjab | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत उमर (र.अ) की बहादुरी, हज़रत अली (र.अ) की आँख का ठीक हो जाना, जकात की फर्जियत, दुनिया व आखिरत की भलाई की दुआ, शौहर की खुशी पर जन्नत, सच्ची गवाही को छुपाने का गुनाह, दुनियावी ज़िन्दगी धोका है, कब्र में ही ठिकाने का फैसला, खजूर से इलाज,…
Read More...

3 रजब | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत उमर (र.अ) का इस्लाम लाना, बाल, अल्लाह की दी हुई नेअमत है, नमाज़ के छेड़ने पर वईद, तीन सांस में पानी पीना, बीमार की इयादत का सवाब ...
Read More...

1 रजब | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत अबू बक्र सिद्दीक (र.अ), मुश्क अल्लाह के खजाने से आता है, इस्लाम की बुनियाद, सुन्नत ज़िन्दा करने की फजीलत, नमाज़े इश्राक की फ़ज़ीलत, सूद खाने और खिलाने पर लानत, दुनिया दार का घर और माल...
Read More...

19 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). रजी और बीरे मऊना का अलमनाक हादसा, (2). बदन की हड्डी कुदरत की निशानी, (3). तक़दीर पर ईमान लाना, (4). घर वालों से नेक बरताव करना, (5). अल्लाह के रास्ते में रोज़ा रखना, (6). बोहतान - झूठा इलज़ाम लगाने की सज़ा, (7). हलाल रोज़ी कमाओ , (8).…
Read More...

18 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). शराब की हुरमत का हुक्म, (2). हज़रत साबित (र.अ) के लिये पेशीनगोई, (3). विरासत में लड़की का हिस्सा, (4). फसाद करने वालों पर गलबा पाने की दुआ, (5). अपने घरवालों पर खर्च करने की फ़ज़ीलत, (6). इन्कार करने वालो का अजाब, (7). अपने बीवी बच्चों…
Read More...

17 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हमराउल असद पर तीन रोज कयाम, (2). मेअदे का निज़ाम ( Digestive System ), (3). सुबह की नमाज अदा करने पर हिफाजात का जिम्मा, (4). मूंछों को तराशना, (5). खाना खिलाने की फ़ज़ीलत, (6). आपस में दुश्मनी रखने का गुनाह, (7). दुनिया में लगे रहने का…
Read More...

16 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). ग़ज़व-ए-उहुद में सहाबा-ए-किराम की बेमिसाल क़ुरबानी, (2). हाथ से ख़ुश्बू निकलना, (3). मजदूर को पूरी मजदूरी देना, (4). बदअख़्लाक़ी से बचने की दुआ, (5). खुशू व खुजू से नमाज़ अदा करना, (6). यतीमों का माल खाने का गुनाह, (7). नाफ़र्मानों से…
Read More...

15 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). ग़ज़वा-ए-उहुद में मुसलमानों की आज़माइश, (2). नाक - कुदरते इलाही की निशानी, (3). शौहर पर बीवी के खर्चे की जिम्मेदारी, (4). सवारी पर सवार होने के बाद की दुआ , (5). अल्लाह के लिये मुहब्बत का बदला, (6). पड़ोसी को तकलीफ देने का गुनाह, (7).…
Read More...

14 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). ग़ज़व-ए-उहुद, (2). हराम लुकमे का गले से नीचे न उतरना, (3). क़ज़ा नमाजों की अदायगी, (4). इशा के बाद जल्दी सोने की सुन्नत, (5). सबसे अच्छा मुसलमान कौन है ?, (6). ईमान को झुटलाने का गुनाह, (7). आखिरत की कामयाबी दुनिया से बेहतर है, (8).…
Read More...

13 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). रमज़ान की फरज़ियत और ईद की खुशी, (2). काइनात की सबसे बड़ी मशीनरी, (3). हज़रत मुहम्मद (ﷺ) को आखरी नबी मानना, (4). इस्मिद सुरमा लगाना, (5). इज्जत की हिफाज़त करना, (6). मोमिन को नाहक़ क़त्ल करने की सज़ा, (7). दुनिया मोमिनों के लिये…
Read More...

12 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). कैदियों के साथ हुस्ने सुलूक, (2). जमात के मुतअल्लिक़ ख़बर देना, (3). कर्ज़ अदा करना, (4). खाने में बरकत, (5). मुसाफा मगफिरत का जरिया है, (6). गुमराही इख्तियार करने का गुनाह, (7). दुनिया चाहने वालों के लिये नुकसान, (8). कब्र के बारे…
Read More...

11 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). गजवा-ऐ-बद्र, (2). हवा में निज़ामे कुदरत, (3). अपने घर वालों को नमाज़ का हुक्म देना, (4). खुश्बू को रद्द नहीं करना चाहिये, (5). सलाम करने पर नेकियाँ, (6). शराब, मुरदार और खिन्ज़ीर हराम है, (7). दुनिया की चीज़ों में गौर व फिक्र करना,…
Read More...

10 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मदीना की चरागाह पर हमला, (2). काफिर का मरऊब हो जाना, (3). दाढ़ी रखने की अहमियत, (4). मगफिरत की दुआ, (5). अच्छे और बुरे अख़्लाक़ की मिसाल, (6). गैरुल्लाह को माबूद बनाने का गुनाह, (7). दुनिया की जाहिरी हालत धोका है, (8). ज़ियादा अमल की…
Read More...

9 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). औस और खजरज में मुहब्बत और यहूद की दुश्मनी, (2). जमीन का अजीब फर्श, (3). अच्छी तरह मुकम्मल वुजू कर के नमाज़ के लिये मस्जिद जाना, (4). दुआ के कलिमात को तीन बार कहना, (5). शर्म व हया ईमान का जुज़ है, (6). गुनाह से न रोकने का वबाल, (7). सब…
Read More...

8 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मदीना के कबाइल से हुजूर (ﷺ) का मुआहदा, (2). ख़ुशहाली आम होने की खबर देना, (3). गुस्ल में पूरे बदन पर पानी बहाना, (4). बच्चों को यह दुआ पढ़ कर दम करें, (5). पसंद के मुताबिक हदिया देना, (6). यतीमों का माल खाने का गुनाह , (7). दुनिया से…
Read More...

7 जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मदीना में मुनाफिक़ीन का जुहूर, (2). गोह की ख़ुसूसियत, (3). आप (ﷺ) की आखरी वसिय्यत, (4). खाना खाते वक्त टेक न लगाना, (5). लोगों की जरूरतें पूरी करने वालो की फ़ज़ीलत, (6). अपने मातहतों पर तोहमत लगाने गुनाह, (7). पेट से ज्यादा बुरा कोई…
Read More...

6. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). असहाबे सुफ्फा, (2). हुजूर (ﷺ) के हाथों की बरकत, (3). हज की फरज़ियत, (4). दीनी भाई की जियारत की फ़ज़ीलत, (5). बुरी तदबीरें करने का गुनाह, (6). दुनिया का सामान चंद रोज़ा हैं, (7). हर नबी का हौज होगा, (8). सना के फायदे, (9). दावत कबूल करे।
Read More...

5. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मुहाजिर व अन्सार में भाई चारा, (2). परिन्दों की परवरिश, (3). नेकियों का हुक्म देना और बुराइयों से रोकना , (4). रुकू में हाथों को घुटनों पर रखना, (5). औरत के लिये चंद आमाल, (6). इंसाफ न करने का वबाल, (7). दुनिया मोमिन के लिये कैदख़ाना…
Read More...

4. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). अज़ान की इब्तेदा, (2). हज़रत उमर (र.अ) के हक में दुआ, (3). नमाज़ के छोड़ने पर वईद, (4). बिजली कड़कने और बादल गरजने के वक़्त की दुआ, (5). मोमिन का ऐब छुपाना, (6). बुरे आमाल की नहूसत, (7). दुनियावी ज़िन्दगी धोका है, (8). जन्नत के दरख्तों…
Read More...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More