3. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

3. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हुजूर (ﷺ) गारे हिरा में, (2). इंसान की हड्डियों में अल्लाह की कुदरत, (3). ज़कात अदा करना, (4). छींक आए तो मुंह पर कपड़ा या हाथ रख ले, (5). अपने घरवालों पर खर्च करने की फ़ज़ीलत, (6). तिजारत में झूट बोलने का गुनाह, (7). बद नसीबी की पहचान, (8). , (9). नींद न आने का इलाज, (10). अपनी औलाद को कत्ल न करो।

30 Shawwal

30. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा

हजरत सुहेल बिन अम्र (र.अ), एक वसक जौ में बरकत, बीवी को उस का महर देना, औलाद के फर्माबरदार होने के लिए, पहली सफ की फजीलत, कुरआन का मज़ाक उड़ाना, माल की मुहब्बत अल्लाह की नाशुक्री का सबब है, हर शख्स मौत के बाद अफ़सोस करेगा, बड़ी बीमारियों से हिफ़ाज़त, हमेशा ऐसे शख्स को देखो जो …

29 Shawwal | शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा

29. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा

हज़रत अनस बिन मालिक (र.अ), सितारों में अल्लाह की कुदरत, दीन में पैदा की हुई नई बातों से बचना (बिद्दत से बचना), सोने के आदाब, चाश्त की नमाज़ पढ़ना, नाम कमाने के लिए जबान का सीखना, दुनिया की मुहब्बत बीमारी है, जन्नत की चीजें, पछना के जरिये दर्द का इलाज, सच्ची पक्की तौबा कर लो …

27 शव्वाल सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा Sirf panch minute ka madarsa

27. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा

हजरत फ़ातिमा बिन्ते रसूलुल्लाह (ﷺ), रात और दिन का अदलना बदलना, बीवी की विरासत में शौहर का हिस्सा, दुआ के खत्म पर चेहरे पर हाथ फेरना, सूद खाने वाले का अंजाम, कयामत के हालात,दाढ़ के दर्द का इलाज, तुम अपने रब से अपने गुनाह माफ़ कराओ …

26. शव्वाल सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा sirf panch minute ka madarsa

26. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा

हजरत उम्मे कुलसूम बिन्ते रसूलुल्लाह (ﷺ), मशकीजे के पानी का खत्म न होना, सूद से बचना, हलाल रिज्क और नाफे इल्मे की दुआ, वुजू के बावजूद वुजू करना, कुफ्र की सज़ा जहन्नम है, आखिरत दुनिया से बेहतर है, हौजे कौसर की कैफियत, वरम (सूजन) का इलाज, आपस में दुश्मनी न रखो

24. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा sirf panch minute ka madrasa

24. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा (कुरआन व हदीस की रौशनी में)

  1. इस्लामी तारीख: हज़रत जैनब बिन्ते रसूलुल्लाह (ﷺ)
  2. हुजूर (ﷺ) का मुअजिजा: उंगलियों से पानी का निकलना
  3. एक सुन्नत के बारे में: कयामत की रुसवाई से बचने की दुआ
  4. एक अहेम अमल की फजीलत: खाने के बाद शुक्र अदा करना
  5. एक गुनाह के बारे में: कुफ्र करने वाले नाकाम होंगे
  6. दुनिया के बारे में : लोगों की कन्जूसी
  7. आख़िरत के बारे में: हौज़े कौसर क्या है ?
  8. तिब्बे नबवी से इलाज: खजूर से इलाज
  9. नबी ﷺ की नसीहत: मजलिस में जाये तो सलाम करे
close
Ummate Nabi Android Mobile App