Browsing tag

islamic science

कुरआन और विज्ञान (Quran aur Science)

(हिंदी अनुवाद) क़ुरान एक सत्य इश्वर अल्लाह द्वारा अवतरित सम्पूर्ण मानवजाति के लिए एक मार्गदर्शन ग्रन्थ है, कुरान की ६००० आयतों में से १००० से ज्यादा आयतो का सम्बन्ध विज्ञानं से है.. तो आईये इस विडियो के माध्यम से हम इसका अनुसरण करने की कोशिश करते है ! के क्यों इश्वर(अल्लाह) ने कुरान में विज्ञानं […]

About Ant life in Quran and Modern Science by Adv. Faiz Syed

अतीत में लोगों ने पवित्र क़ुरआन में चींटियों की वार्ता देख कर उस पर टिप्पणी की और कहा कि चींटियां तो केवल कहानियों की किताबों में ही बातें करती हैं। लेकिन आधुनिक विज्ञान से आज हमे चींटियों की जीवन शैली उनके परस्पर सम्बंध और अन्य जटिल अवस्थाओं का ज्ञान होता है जिसका जिक्र १४०० साल […]

Science and Technology hai Islam ki Daiyn ! Afsos khud Musalman hai is se Gafil

मोजुदा दौर में मुसलमानों के इल्म से दुरी ने उन्हें अपने आबा-ओ-अजदाद के कारनामो से महरूम कर दिया. जबकी इस्लाम ही ने दुनिया को मशाले राह दिखाई , साइंस और टेक्नोलॉजी भी मुसलमानो ने वजदू में लायी. तफ्सीली जानकारी के लिए इस स्पीच का मुताला करे और ज्यादा से ज्यादा शेयर करने में हमारी मदद […]

मुसलमानों के साइंसी कारनामे

मुसलमानों के लिए ज्ञान के क्या मायने हैं उसे कुरआन ने अपनी पहली ही आयत में स्पष्ट कर दिया था अतीत में मुसलमानों ने इसी आयत करीमा का पालन करते हुए वह स्थान प्राप्त कर लिया था जिस के बारे में आज कोई विचार नही कर सकता। मुसलमान ज्ञान के हर क्षेत्र में आगे थे […]

भ्रूणशास्त्र की आयते देखकर डॉ किथ मूर को विश्वास हो गया के “कुरान ईश्वरीय ग्रन्थ है”

प्रो. डॉ. कीथ मूर जो कि वर्तमान समय मे विश्व मे एम्ब्रियोलॉजी अर्थात् भ्रूण शास्त्र के सबसे बड़े ज्ञाता माने जाते हैं, और टोरंटो विश्वविद्यालय (कनाडा) के डिपार्टमेण्ट आफ एनाटॉमी एण्ड सेल बॉयोलॉजी मे विभागाध्यक्ष रह चुके हैं, इन्होंने जब शोध कार्य के लिए कुरान की कुछ पवित्र आयतों का अध्ययन किया तो कुरान को […]

इब्न-अल-हेथम थे कैमेरा के सबसे पहले अविष्कारक

इब्न अल हैथम [965ई -1040ई] इराक के रहने वाले यह वो शख्स है जिन्हे हम कह सकते है “फादर ऑफ़ मॉडर्न ऑप्टिक्स”। – ऑप्टिक्स यानी चश्मे जो हम लगा रहे है, कैमरे जो चल रहे है, तमाम चीज़ों के ये बानी (फाउंडर) कहलाते है! – इसलिए के यह पहले थे जिन्होंने सबसे पहला कैमरा बनाया […]

पेड़ पौंधो में जीवन होने के प्रमाण – १४०० साल से केहता है कुरान

ईश्वर(अल्लाह) द्वारा रची गई इस अद्भुत सृष्टि मे एक अद्भुत रचना है, वनस्पति जगत …. – पेड़ पौधों को हम अपनी आंखो से जीवित प्राणियों की तरह छोटे से बड़ा होते, बढ़ते बनते देखते हैं …. – पेड़ों को खुद हम अपने हाथ से भोजन खिलाते और पानी पिलाते हैं यानी उन्हें खाद और पानी […]