3 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

3 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत मरयम (अ.स) की आज़माइश, अल्लाह की कुदरत: जिस्म में गुर्दे की अहमियत (Kidney), दरवाज़े पर सलाम करने की सुन्नत, अल्लाह के ज़िक्र की फ़ज़ीलत, मेहर अदा ना करने का गुनाह, मुत्तक़ी और परहेज़गारों का इनाम …

2 Rabbi Ul Awwal

2 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत ज़करिया (अ.स), अस्र की नमाज़ की फज़ीलत, मेहमान का अच्छे अलफाज़ से इस्तिकबाल करना, पड़ोसी के साथ अच्छा सुलूक करना, रसूलल्लाह (ﷺ) की नाफ़रमानी करने का गुनाह, अल्लाह और उसके बन्दों के हुकूक …

1 Rabbi Ul Awwal

1 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत ज़करिया (अ.स), अस्र की नमाज़ की फज़ीलत, मेहमान का अच्छे अलफाज़ से इस्तिकबाल करना, पड़ोसी के साथ अच्छा सुलूक करना, रसूलल्लाह (ﷺ) की नाफ़रमानी करने का गुनाह, अल्लाह और उसके बन्दों के हुकूक …

30. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

30. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत उज़ैर (अ.स), सज्दा-ए-सहव करना, मोमिन के हक़ में दुआ, बरकत वाला निकाह, रसूलुल्लाह (ﷺ) के हुक्म को ना मानने का गुनाह,जनाज़े को दफ़नाने में देर ना करो …

28. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

28. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत यूनुस (अ.स), हुजूर (ﷺ) का मुअजिज़ा : थोड़े से पानी में बरकत, सब से पहले नमाज़ का हिसाब, गुनाहों से तौबा करने की दुआ, कुरआन को झुटलाने का गुनाह, छींक की दुआ और जवाब …

23 Safar

23. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत दाऊद (अ.स) की नुबुव्वत व हुकूमत, अल्लाह की कुदरत : इन्सानी अक्ल, एक फ़र्ज़: वालिदैन के साथ अच्छा सुलूक करना, कुरआने करीम की तिलावत करने की फ़ज़ीलत, बीवियों के दर्मियान इन्साफ न करने का गुनाह …

20. Safar | Sirf Panch Minute ka Madarsa

20. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत शमवील (अ.स.), हुजूर (ﷺ) का मुअजिज़ा : ऊँट का हुजूर की फर्माबरदारी करना, एक फर्ज: जमात से नमाज़ पढ़ने की ताकीद, एक अहम अमल : कुरआन को गौर से सुनना …

19. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

19. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हजरत यसआ (अ.), अल्लाह की कुदरत: फलों में रस, वसिय्यत पूरी करना, अल्लाह की किसी मखलूक को सताने का गुनाह, हलक के कव्वे का इलाज …

18. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

18. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत इलयास (अ.), एक फर्ज: कर्ज अदा करना, नमाज़ में तशहुद के बाद की दुआ, औलाद का क़त्ल गुनाहे कबीरा है, अल्लाह के अलावा किसी और की कसम ना खाओ…

17. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

17. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत हिज्कील (अ.), रेशम का कीड़ा, नमाज़े जनाज़ा फर्जे किफाया है, हाथ पैर की उंगलियों का खिलाल करना, एक गुनाह: हराम माल से सद्का करना …

Sadqa dene walo ka Silah Rab ke paas hai

Sadqa dene walo ka Silah Rab ke paas hai

Aaj ki Aayat | Verse of the Day

Sadqa dene walo ka Silah Rab ke paas hai

۞ Bismillah-Hirrahman-Nirrahim ۞

“Jo Log Apna Maal Allah ki Raah me Kharch karte hai, Phir Kharch karne ke baad na tou Ahsaan Jatlaate hai aur Na Takleeef pahunchaate hai, Unka Silah tou unke Rab ke yahan hai hi, aur Qayamat ke din Unko na tou koi khauf hoga aur na woh Ghamgeen honge.”

📕 Surah Baqrah 2:262

Read MoreSadqa dene walo ka Silah Rab ke paas hai

5/5 - (3 votes)
8 Safar | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

8. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत लुकमान हकीम, मुअजिज़ा: अरब के रास्तों के मुतअल्लिक़ पेशीनगोई, एक फ़र्ज़: जकात की फर्जियत, यतीम पर रहम करने की फ़ज़ीलत, नाफ़रमानों के माल व दौलत को न देखना …

Allah se kuch bhi chupa hua nahi

Allah se kuch bhi Chupa nahi

Aaj ki Aayat | Verse of the Day

Allah se kuch bhi Chupa nahi

Allah Ta’ala ka farman hai:

“Aur Aap ke Rabb se koi cheez zarrah barabar bhi ghaib nahi na Zameen mein aur na Aasman mein.”

📕 Surah An-Naml: 82

“Jab darakhton, zarron, jaanwaron aur tamaam tarr-o-khushk cheezon ke haal se Allah waaqif hai to bhala yeh kaise mumkin hai ke un bandon ke aamaal se woh be-khabar ho jinhein Rabb ki ibadat karne ka hukm diya gaya hai.”

📕 Tafseer Ibn-e-Kaseer

5/5 - (3 votes)
7 Safar | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

7. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत अय्यूब (अ.स), कुदरत : परिन्दों का फिज़ा में उड़ना, एक फर्ज : अजाने जुमा के बाद दुनियावी काम छोड़ देना, सुन्नत : गुस्ल से पहले वुजू करना, मरीज़ के अयादत की फ़ज़ीलत …

6 Safar | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

6. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत शुऐब (अ.स) की दावत और कौम की हलाकत, मुअजिज़ा: कहत साली दूर होना – बारिश का बरसना, अल्लाह ही मदद करने वाला हैं, अच्छे काम करने पर सद्के का सवाब, कुफ्र की सज़ा जहन्नम …

Hadees : Maal kaha se kamaya aur kaha kharch kiya?

Maal kaha se kamaya aur kaha kharch kiya?

Hadees of the Day

Maal kaha se kamaya aur kaha kharch kiya?

Abu Barza (R.A) se riwayat hai ki,
Rasool’Allah (ﷺ) ne irshaad farmaya –

‟Qayamat ke Din insan ke dono qadam uss waqt tak (Hisaab ki Jagah se) nahi hatt sakte, jab tak uss se in paanch cheezon ke baarey me na puch liya jaaye.

(1) Apni Umr kis kaam me Kharch ki ?,
(2) Apne Ilm par kya amal kiya ?,
(3) Maal kaha se kamaya ?,
(4) aur Kahan kharch kiya ?,
(5) Apni Jismani Quwwat kis kaam me lagayi ?

📕 Jami at-Tirmidhi 2417

4/5 - (25 votes)
5 Safar | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

5. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत शुऐब (अ.स) और उन की कौम, कुदरत : कुतुब तारा (ध्रुव तारा / Polestar), एक फर्ज : इस्लाम में नमाज़ की अहेमियत, सुन्नत : बच्चों के सरों पर हाथ फेरना, शराबी की सजा – क़यामत में प्यासा उठेगा …

4 Safar | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

4. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत यूसुफ (अ.स) की नुबुय्वत व हुकूमत, मुअजिज़ा: सूखे थन का दूध से भर जाना, एक फ़र्ज़ : औलाद की मीरास में माँ बाप का हिस्सा, एक सुन्नत : परेशानी के वक्त में क़ुरआनी दुआ, अल्लाह के जिक्र की फजीलत, सच्ची गवाही को छुपाने का गुनाह …

Ek Jumuah Mein Haziri se 10 Dino ke Gunahon ki Maafi

Ek Jumuah Mein Haziri se 10 Dino ke Gunahon ki Maafi

Hadees of the Day | Jumuah Series

Ek Jumuah Mein Haziri se 10 Dino ke Gunahon ki Maafi

Allah ke Rasool (ﷺ) ne farmaya:

“Jisne Ghusl Kiya, Phir Jumuah ke Liye Hazir Hua,
phir Uske Muqaddar mein Jitni (Nafil) Namaaz thi padhi,
phir Khamoshi se (Khutbah) sunta raha,
yahan tak ki Khateeb apne Khutbe se Faarigh ho gaya,

phir Uske Sath Namaz padhi, to Uske
us Jumuah se Lekar Ek aur Jumuah tak ke
Gunah bakhsh diye Jaate hain.
Aur Mazeed 3 Dinon ke bhi.”

📕 Sahih Muslim: 857 (1987)

5/5 - (3 votes)
3 Safar | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

3. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत यूसुफ (अ.स) की आज़माइश, कुदरत : आँख की बनावट, एक फर्ज : जुमा की नमाज, सुन्नत : दरवाज़े पर सलाम करना, दुनिया आखिरत में कामयाबी का ज़रिया …

Ibrahim Alaihis Salam Story in Hindi

हज़रत इब्राहीम अलैहि सलाम (भाग: 3) » Qasas ul Anbiya: Part 8.3

हज़रत इब्राहीम अलैहि सलाम (भाग: 3)Qasas ul Anbiya: Part 8.3 ۞ बिस्मिल्लाहिररहमानिरहीम ۞ पिछली पोस्ट (भाग 2) …

Read Moreहज़रत इब्राहीम अलैहि सलाम (भाग: 3) » Qasas ul Anbiya: Part 8.3

Hadees: Hadd se jyada tareef na kare

Hadd se jyada tareef na kare

Hadees of the Day

Hadd se jyada tareef na kare

Nabi-e-Kareem (ﷺ) ne Suna ki :
Ek Shakhs Dusre Shakhs ki Tareef kar raha hai aur Tareef mein
Bohot Mubalgha se kaam le raha tha to Nabi Kareem (ﷺ) ne farmaya:

“Tumne Usey Halaak kar diya ya Tumne us Shakhs ki Kamar ko tod diya.”

📕 Sahih Bukhari: 6060

Hadd se jyada Tareef karna ya kisi ke Mooh pe
Taarif Karna Goya usko Halaq karne ke barabar hai.

5/5 - (8 votes)
2 Safar | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

2. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख : हज़रत यूसुफ (अ.स), मुअजिज़ा: नबी (ﷺ) की पुकार पर पत्थर का हाज़िर होना, एक फ़र्ज़ : मस्जिद में दाखिल होने के लिए पाक होना, एक सुन्नत : बीमार को दुआ देना, गरीबों के काम में मदद करने की फ़ज़ीलत, अल्लाह तआला के साथ शिर्क करने का गुनाह …

Hadees: Haq par hote hue Jhagda chor de

Haq par hote hue Jhagda chor de

Hadees of the Day

Haq par hote hue Jhagda chor de

Allah ke Rasool (ﷺ) ne farmaya: 

“Main Us Shakhs Ke Liye Jannat Mein Ek Mahel Ka Zimmedar Hun Jo Haq Par Hote Hue Zagda Chhod De.”

📕 Sunan Abu Dawood: 4800 (Sahih)

Allah Taala hum sabko kehne sunne se jyada
amal ki taufiq de. ameen! Allahumma ameen.

4.8/5 - (109 votes)
1 Safar

1. सफर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत याकूब (अ.स) पर आजमाइश, कुदरत : खारे पानी को मीठा बनाना, एक फर्ज : नमाज़े गुनाहों को मिटा देती हैं, सुन्नत : ज़मीन पर बैठ कर खाना, मुसलमान की ग़ीबत और बेइज्जती की सजा …

30 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

30. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख : हज़रत याकूब (अ.स), मुअजिज़ा: सुराका के घोड़े का ज़मीन में धंस जाना, एक फ़र्ज़ : बाजमात नमाज़ पढ़ने की निय्यत से मस्जिद जाना, मुसलमानों को तकलीफ पहुँचाने का गुनाह, आख़िरत : जहन्नम की वादी, तिब्बे नब्बीसे इलाज : शहद के फवाइद …