अनाथों के प्रति करुणा पर्याप्त नहीं है, सम्मान भी जरूरी है। “ऐसा नहीं, बल्कि तुम अनाथ का आदर नहीं करते।” (कुरआन ८९:१७) #Hadeed #DailyHadees #HadeesoftheDay

क्या आप अनाथों का सम्मान करते हो?

अनाथों के प्रति करुणा पर्याप्त नहीं है,

सम्मान भी जरूरी है।

“ऐसा नहीं, बल्कि तुम अनाथ का आदर नहीं करते।”

(कुरआन ८९:१७)

Ref: Wisdom  Media School | #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More