27 शव्वाल सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा Sirf panch minute ka madarsa

27. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा

हजरत फ़ातिमा बिन्ते रसूलुल्लाह (ﷺ), रात और दिन का अदलना बदलना, बीवी की विरासत में शौहर का हिस्सा, दुआ के खत्म पर चेहरे पर हाथ फेरना, सूद खाने वाले का अंजाम, कयामत के हालात,दाढ़ के दर्द का इलाज, तुम अपने रब से अपने गुनाह माफ़ कराओ …