Hadees: Chaar baato par Iman Lana Farz hai

हदीस: चार बाते जिनपर इमांन लाना फ़र्ज़ है।

 

Roman Urdu

۞ Hazrat Ali (R.A) se riwayat hai ke, Allah ke Rasool (ﷺ) ne farmaya ke:
“jabtak koi banda in 4 baaton par imaan naa laye, to woh Momin nahi ho sakta: (1) is baat ki Gawahi de ke Allah ke alawa koi ibadat ke layaq nahi, (2) (is ki bhi gawahi de ke) Main (Muhammad ﷺ) Allah ka Rasool hu, usne mujhe Haq ke saath bheja hai. (3) Marne aur dobara Zinda hone ka yakin rakhe. (4) Taqdeer par imaan laye.”

📕 Jami` at-Tirmizi 2145

हिंदी

۞ हज़रत अली (र.अ) से रिवायत है के, रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फ़रमाया:
“जब तक कोई बन्दा इन चार बातों पर ईमान न लाए, तो वह मोमिन नहीं हो सकता : (१) इस बात की गवाही दे के अल्लाह के अलावा कोई इबादत के लायक नहीं , (२) (इस की भी गवाही दे के) मैं (मुहम्मद ﷺ) अल्लाह का रसूल हूँ उस ने मुझे हक़ के साथ भेजा है। (३) मरने और फिर दोबारा ज़िन्दा होने का यक्रीन रखे । (४) तक़दीर पर ईमान लाए।

📕 तिरमिंज्री: २१४५

English

۞ ‘Ali narrated that the Messenger of Allah (s.a.w) said:
‘A slave (of Allah) shall not believe until he believes in four: The testimony of La Ilaha Illallah, and that I am the Messenger of Allah whom He sent with the Truth, and he believes in the death, and he believes in the Resurrection after death, and he believes in Al-Qadar.”

📕 Jami` at-Tirmizi 2145

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of