खतना इन्सान को कई बड़ी बीमारियों से बचाता है जानिए

!! दुनियाभर में हुए शोधों ने यह साबित किया है कि खतना इंसान की कई बड़ी बीमारियों से हिफाजत करता है।

इस समय खतना (सुन्नत) यूरोपीय देशों में बहस का विषय बना हुआ है। खतने को लेकर पूरी दुनिया में एक जबरदस्त बहस छिड़ी हुई है। इस पर विवाद तब शुरू हुआ जब जर्मनी के कोलोन शहर की जिला अदालत ने अपने एक फैसले में कहा कि शिशुओं का खतना करना उनके शरीर को कष्टकारी नुकसान पहुंचाने के बराबर है। फैसले का जबर्दस्त विरोध हुआ। इस मुद्दे का अहम पहलू हाल ही आया अमरीका के शिकागो स्थित बालरोग पर शोध करने वाली संस्था ‘द अमरीकन एकेडेमी ऑफ पीडीऐट्रिक्स’ का ताजा बयान। में कहा है कि नवजात बच्चों में किए जाने वाले खतना या सुन्नत के सेहत के लिहाज से बड़े फायदे हैं। सच भी है कि समय-समय पर दुनियाभर में हुए शोधों ने यह साबित किया है कि खतना इंसान की कई बड़ी बीमारियों से हिफाजत करता है।
खतना एक शारीरिक शल्यक्रिया है जिसमें आमतौर पर मुसलमान नवजात बच्चों के लिंग के ऊपर की चमड़ी काटकर अलग की जाती है।

!! वैज्ञानिकों ने दिए सबूत !!

शिकागो स्थित बालरोग चिकित्सकों के इस बयान का आधार वैज्ञानिक सबूत हैं जिनके आधार पर यह साफतौर पर कहा जा सकता है कि जो बच्चे खतने करवाते हैं, उनमें कई तरह की बीमारियां होने की आशंका कम हो जाती है। इनमें खासतौर पर छोटे बच्चों के यूरिनरी ट्रैक्ट में होने वाले इंफेक्शन, पुरुषों के गुप्तांग संबंधी कैंसर, यौन संबंधों के कारण होने वाली बीमारियां, एचआईवी और सर्वाइकल कैंसर का कारक ह्युमन पैपिलोमा वायरस यानि एचपीवी शामिल हंै।
एकेडेमी उन अभिभावकों का समर्थन करता है जो अपने बच्चे का खतना करवाते हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि खतना किए गए पुरुषों में संक्रमण का जोखिम कम होता है क्योंकि लिंग की आगे की चमड़ी के बिना कीटाणुओं के पनपने के लिए नमी का वातावरण नहीं मिलता है.

!! एड्स और गर्भाशय कैंसर से हिफाजत !!

महिलाओं में गर्भाशय कैंसर का कारण ह्युमन पैपिलोमा वायरस होता है। यह वायरस लिंग की उसी चमड़ी के इर्द-गिर्द पनपता है जो संभोग के दौरान महिलाओं में प्रेषित हो जाता है। ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में अप्रेल 2002 में प्रकाशित एक आर्टिकल का सुझाव था कि खतने से महिला गर्भाशय कैंसर को बीस फीसदी तक कम
किया जा सकता है। खतने से एचआईवी और एड्स से हिफाजत होती है। ब्रिटिश मेडिकल जर्नल के ही मई 2000 के एक आर्टिकल में उल्लेख था कि खतना किए हुए पुरुष में एचआईवी संक्रमण का खतरा आठ गुना कम होता है। हजार में से एक पुरुष लिंग कैंसर का शिकार हो जाता है लेकिन खतना इंसान की इस बीमारी से पूरी तरह हिफाजत करता है।
नवंबर 2000 में बीबीसी टेलीविजन ने यूगांडा की दो जनजातीय कबीलों पर आधारित एक रिपोर्ट प्रसारित की। इसके मुताबिक उस कबीले के लोगों में एड्स नगण्य पाया गया जो खतना करवाते थे, जबकि दूसरे कबीले के लोग जो खतना नहीं करवाते थे, उनमें एड्स के मामले ज्यादा पाए गए। इस कार्यक्रम में बताया गया कि कैसे लिंग के ऊपर चमड़ी जो खतने में हटाई जाती है, उसमें संक्रमण फैलने और महिलाओं में प्रेषित होने की काफी आशंका रहती है। आम है

!! अमरीका में नवजात बच्चों का खतना !!

अमरीकी समाज का एक बड़ा वर्ग बेहतर स्वास्थ्य के लिए इस प्रथा को मानने लगा है। नेशनल हैल्थ एण्ड न्यूट्रिशन एक्जामिनेशन सर्वेज की ओर से अमरीका में 1999 से 2004 तक कराए गए सर्वे में 79 फीसदी पुरुषों ने अपना खतना करवाया जाना स्वीकार किया। नेशनल हॉस्पीटल डिस्चार्ज सर्वे के अनुसार अमरीका में 1999 में 65 फीसदी नवजात बच्चों का खतना किया गया। अमरीका के आर्थिक और सामाजिक रूप से सम्पन्न परिवारों में जन्में नवजात बच्चों में खतना ज्यादा पाया गया।
विश्व स्वास्थ्य संगठन का अनुमान है कि दुनिया भर में करीब 30 फीसदी पुरुषों का खतना हुआ है। सांसदों ने करवाया संसद में खतना यही नहीं एचआईवी की रोकथाम के लिए अफ्रीका के कई देशों में पुरुषों में खतना करवाने को बढ़ावा दिया जा रहा है।

!! जिम्बाब्वे में एचआईवी संक्रमण रोकने के लिए खतना शिविर !!

जिम्बाब्वे में एचआईवी संक्रमण रोकने के लिए चलाए गए एक अभियान के तहत जून 2012 में कई सांसदों ने संसद के भीतर खतना करवाया। इसके लिए संसद के भीतर एक अस्थायी चिकित्सा शिविर लगाया गया है।
समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार जिम्बाब्वे की दो मुख्य पार्टियों के कम-से-कम 60 सांसदों ने बारी-बारी से आकर चिकित्सकीय परामर्श लिया और फिर शिविर में जाकर परीक्षण करवाया।
अभियान की शुरुआत में बड़ी संख्या में सांसदों ने हिस्सा लेते हुए एचआईवी टेस्ट करवाते हुए इस खतरनाक बीमारी से बचने के लिए खतना करवाने का संकल्प लिया था।

Khatna, Circumcision, Khatna Karne Ke Fayde, Khatna Kya Hota Hai, Khatna In Islam In Hindi, Khatna Benefits In Hindi, Khatna Benefits, Khatna Ke Fayde, Khatna Kya Hota Hai In Hindi, Khatna Hindi Me, Khatna History In Hindi, Khatna Kya Hai, Ling Khatna, Muslim Khatna Ke Fayede Jankari Hindi, What Is Khatna In Islam In Hindi, Describe Khatna In Hindi, Islam Me Khatna Kyu, Islamic Khatna, Khatna About In Hindi, Khatna Benifits, Khatna In Islam Explain In Hindi, Khatna Ka Fayada In Hindi, Khatna Ka Fayda Hindi Me, Khatna Kaise Hota, Khatna Kaise Hoti Hai, Khatna Kaise Karte Hai, Khatna Karane Se Kya Fayda, Khatna Karvane Ke Fayde, Khatna Kya Hai Hindi, Khatna Kya Hota Hai Hindi, Khatna Muslim Hindi, Khatna Na Krane Ke Nukshan, Khatna Se Kya Faida Hai, Male Khatna Benifit In Hindi, Musalmano Me Khatna Kaise Hoti He, Musalmano Me Khatna Kyo Hota Hai, Muslim Khatna, Muslim Khatna Hindi, Muslim Logo Ko Khatna Karne Se Kya Fayda Hota Hai, Science Aur Khatna, What Is Khatna In Muslim Religion In Hindi, What Is Khatna In Muslims Hindi

CircumcisionDescribe Khatna In HindiIslam Me Khatna KyuIslamic baatein in HindiIslamic KhatnaKhatnaKhatna About In HindiKhatna BenefitsKhatna Benefits In HindiKhatna BenifitsKhatna Hindi MeKhatna History In HindiKhatna In Islam Explain In HindiKhatna In Islam In HindiKhatna Ka Fayada In HindiKhatna Ka Fayda Hindi MeKhatna Kaise HotaKhatna Kaise Hoti HaiKhatna Kaise Karte HaiKhatna Karane Se Kya FaydaKhatna Karne Ke FaydeKhatna Karvane Ke FaydeKhatna Ke FaydeKhatna Kya HaiKhatna Kya Hai HindiKhatna Kya Hota HaiKhatna Kya Hota Hai HindiKhatna Kya Hota Hai In Hindikhatna kyun hota haiKhatna Muslim HindiKhatna Na Krane Ke NukshanKhatna Se Kya Faida HaiLing KhatnaMale Khatna Benifit In HindiMusalmano Me Khatna Kaise Hoti HeMusalmano Me Khatna Kyo Hota HaiMuslim KhatnaMuslim Khatna HindiMuslim Khatna Ke Fayede Jankari HindiMuslim Logo Ko Khatna Karne Se Kya Fayda Hota HaiNewsScience and Islamscience aur islamScience Aur KhatnaWhat Is Khatna In Islam In HindiWhat Is Khatna In Muslim Religion In HindiWhat Is Khatna In Muslims Hindiwhy muslim do khatna in hindiखतनाखतना इन्सान को कई बड़ी बीमारियों से बचाता हैखतना कराने के क्या फायदे हैं?खतना के फायदेखतना कैसे होता है
Comments (0)
Add Comment