"the best of peoples, evolved for mankind" (Al-Quran 3:110)
Browsing Category

इस्लाम के बारे में संदेह और उत्तर

जानीये – क्यों हराम है सुअर का मांस ….

इस्लाम में सुअर का माँस खाना वर्जित(हराम) होने की बात से सभी परिचित हैं। निम्नलिखित तथ्यों द्वारा इस प्रतिबन्ध की व्याख्या की गई है। 1). सुअर के मांस का निषेध पवित्र कुरआन में । पवित्र क़ुरआन में कम से कम चार स्थानों पर सुअर का मांस खाने की…

दुनिया में इतने धर्म कैसे बने ? …

(इसे पढने में आपके 5 मिनट ज़रूर लगेगे लेकिन इंशाअल्लाह “आपको बहुत सारी बातें स्पष्ट” हो जाएँगी) * मानव इतिहास का अध्ययन करने से पता चलता है कि इस धरती पर ईश्वर ने अलग अलग जगह मानव नहीं बसाए, * अपितु एक ही मानव से सारा संसार फैला है।…

पर्दे का हुक्म वैदिक धर्म में भी ….

हमारे कुछ‌ हिन्दू भाई हमसे कहते है की तुम मुस्लिम अपनी औरतो को पर्दे मे रख कर‌ उन पर अत्याचार करते हो. भला औरतो को इस तरह पर्दे मे रख कर यह‌ भयानक सज़ा क्यों देते हो? उन हिन्दू भाईयो के लिए हमारे पास यही जवाब है, के काश वो भी अपने वेदों की…

भूत, प्रेत, बदरूह की हकीकत ….

» भूत, प्रेत, बदरूह: ये नाम अकसर इन्सानी ज़हन मे आते ही एक डरावनी और खबायिसी शख्सियत ज़ेहन मे आती हैं क्योकि मौजूदा मिडिया ने इन्सान को इस कदर गुमराह कर रखा हैं के जो नही हैं उसको इतनी खूबसूरती के साथ ये मिडिया वाले पेश करते हैं के इन्सान…

अल्लाह ने सभी को अपने मज़हब का क्यों नहीं बनाया…?

» प्रश्न: अल्लाह ने सभी को अपने मज़हब का क्यों नहीं बनाया...? » उत्तर: इसका उत्तर क़ुरआन ने विभिन्न स्थानों पर दिया है क़ुरआन में कहा गयाः ∗ अल-कुरान : " यदि आपका रब चाहता तो सब लोगों को एक रास्ते पर एक उम्मत कर देता, वे तो सदैव मुखालफ़त…

इस्लाम से पहले क्या था ? ….

* प्रायः यह पूछा जाता है कि इस्लाम से पहले कौन सा धर्म था ? * अगर इस्लाम ही सच्चा धर्म है तो क्या उससे पहले के व्यक्ति की मुक्ति नहीं होगी ?... * यह अक्सर प्रश्न नॉन-मुस्लिम भाई पूछते रहते हैं. वैसे इसका एक मुख्य कारण है क्यूं कि वे समझते…