मुअव्वज़तैन से बीमारी का इलाज

हजरत आयशा (र.अ) फ़र्माती हैं के रसूलुल्लाह (ﷺ) जब बीमार होते तो मुअव्वजतैन सूरह फलक और सूरह नास पढ़ कर अपने ऊपर दम कर लिया करते थे।

📕 मुस्लिम: ५७१५

और देखे :

Share on:

Trending Post

Leave a Reply