औरतों का चंद बातों पर अमल करना

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फरमाया :

“अगर औरत पाँच वक़्त की नमाज पढ़े और रमजान के रोजे रखे और अपनी शर्मगाह की हिफाज़त करे और अपने शौहर की फरमाबरदारी करे (तो कयामत के दिन) उससे कहा जाएगा: तुम जन्नत के जिस दरवाजे से चाहो जन्नत में दाखिल हो जाओ।”

📕 मुस्नदे अहमद : १६६४

VIEW MORE

Share on:

Trending Post

Leave a Reply

close