Browsing tag

the quran and modern science

कुरआन में खारे और मीठे पानी का रहस्य – Quran about oceanology (कुरान और समुद्र विज्ञान)

आधुनिक विज्ञान ने यह खोज कर ली है कि जहां-जहां दो भिन्न समुद्र Oceans आपस में मिलते है वहीं वहीं उनके बीच ‘दीवार’ भी होती है। दो समुद्रों को विभाजित करने वाली अनदेखी दीवार यह है कि उनमें से एक समुद्र की लवणता:Salinity जल यानि तापमान और रसायनिक अस्तित्व एक दूसरे से भिन्न होते हैं […]

फिरोन की लाश पर परिक्षण कर के डॉक्टर मोरिस को कुरान की सत्यता पर विश्वास हुआ

डॉ मौरिस बुकाय फ्रांस के सबसे बड़े डाक्टर थे, और उनका धर्म ईसाई था ॥ 1898 मे जब मिस्र मे लाल सागर के किनारे एक अति प्राचीन मानव शरीर मिला जो आश्चर्यजनक रूप से हज़ारों साल गुजर जाने के बाद भी सुरक्षित था, सभी को इस मृत शरीर का रहस्य जानने की उत्सुकता रहती थी […]

भ्रूणशास्त्र की आयते देखकर डॉ किथ मूर को विश्वास हो गया के “कुरान ईश्वरीय ग्रन्थ है”

प्रो. डॉ. कीथ मूर जो कि वर्तमान समय मे विश्व मे एम्ब्रियोलॉजी अर्थात् भ्रूण शास्त्र के सबसे बड़े ज्ञाता माने जाते हैं, और टोरंटो विश्वविद्यालय (कनाडा) के डिपार्टमेण्ट आफ एनाटॉमी एण्ड सेल बॉयोलॉजी मे विभागाध्यक्ष रह चुके हैं, इन्होंने जब शोध कार्य के लिए कुरान की कुछ पवित्र आयतों का अध्ययन किया तो कुरान को […]

कुरआन और समुद्र-विज्ञान !! समुद्र की गहराइयों में अंधेरा …

समुद्र-विज्ञान और भू-विज्ञान के जाने माने विशेषज्ञ प्रोफेसर दुर्गा राव जद्दा स्थित शाह अब्दुल अजी़ज़ यूनिवर्सिटी, सऊदी अरब में प्रोफ़ेसर रह चुके हैं। एक बार उन्हें निम्नलिखित पवित्र कुरान की आयत(श्लोक) की समीक्षा के लिये कहा गया जिसमे अल्लाह फरमाता है – ♥ “या फिर उसका उदाहरण ऐसा है जैसे एक गहरे समुद्र में अंधेरे […]