Browsing tag

Hadith about Bidah

Eid Milad Un Nabi 2019 : जश्ने मिलाद उन नबी (ﷺ) के नाम पर केक, DJ और तवायफों का नाच

जो पूरा साल अपनी माँ की खिदमत नहीं करते वो एक दिन चुनकर “मदर डे” मनाते है, इसी तरह फादर्स डे, टीचर्स डे और न जाने कौन कौनसा डे मनाकर एक रस्म पुरी कर लेते! मिलाद का मनमानी जश्न भी इसी तरह के नफ्सपरस्तो की ईजाद करदा रस्म है जिसका जिक्र कही भी कुरानो सुन्नत में नहीं […]

जिसकी बुनियाद शरीयत मे नही ऐसा काम दीन मे ईजाद करना मरदूद है

हजरते आयेशा (रज़ीअल्लाहु अन्हा) से रिवायत है की, रसूलअल्लाह (ﷺ) ने फरमाया: “जिसने दीन मे कोई ऐसा काम किया जिसकी बुनियाद शरीअत में नहीं वो काम मरदूद है।” – (सुनन इब्न माजाह, हदीस 14) ✦ वजाहत: मसलन वो तमाम आमाल जिन्हे हम नेकी और सवाब की उम्मीद से करते है लेकिन जो सुन्नत से साबित न […]