नर्म मिज़ाजी इख्तियार करना

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फरमाया :

“क्या मैं तुम को ऐसे शख्स की खबर न दूँ जो दोजख के लिये हराम है और दोज़ख की आग उस पर हराम है? हर ऐसे शख्स पर जो तेज़ मिजाज न हो बल्के नर्म हो, लोगों से क़रीब होने वाला हो, नर्म मिजाज हो।”

📕 तिर्मिज़ी : २४८८

और देखे :

Share on:

Trending Post

Leave a Reply