अपने घर वालों को खिलाना पिलाना

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फ़रमाया:

“जो तुमने खुद खा लिया वह तुम्हारे लिये सदका है और जो कुछ तुम ने अपनी औलाद को खिलाया वह तुम्हारे लिये सदका है और जो कुछ तुम ने अपनी बीवी को खिलाया वह तुम्हारे लिये सदका है और जो कुछ तुमने अपने खादिम को खिलाया उस में भी तुम्हारे लिये सदके का सवाब है।”

📕 मुस्नदे अहमद:१६७२७

Share on:

Leave a Comment