29 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

29. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख : कौमे लूत पर अजाब, कुदरत : दरख्तों के पत्तों के फायदे, एक फर्ज : दीन में नमाज़ की अहेमियत, गरीब व मिस्कीन से मुलाकात करना, क़यामत के दिन सब से बदहाल शख्स …

28 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

28. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख : हजरत लूत (अ.स), एक फ़र्ज़ : कजा नमाज़ों की अदाएगी, एक सुन्नत : कब्रस्तान जाने की दुआ, अहेम अमल : तहिय्यतुल वुजू पर जन्नत का इन्आम, नमाज़ में सुस्ती करने का गुनाह …

27 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

27. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख : जुलकरनैन, कुदरत : खारे और मीठे पानी का अलग रहना, एक फर्ज : मांगी हुई चीज़ का लौटाना, जन्नत में जाने की दुआ, अपनी इज्जत के लिये दूसरों को खड़ा करने का गुनाह …

Hadees : Namaz me banda Rab se Baate karta hai

Namaz me banda Rab se Baate karta hai

Hadees of the Day

Namaz me banda Rab se Baate karta hai

Anas bin Malik (R.A) se riwayat hai ki,
RasoolAllah (ﷺ) ne farmaya –

Jab Koi Shakhs Namaz ke liye Khada hota hai,
tou goya wo Apne Rab ke Saath Sargoshi (yaani baate) karta hai.
Ya Yu farmaya ki Uska Rab uskey aur
Qibley ke darmiyan hota hai.”

📕 Sahih Bukhari, 405

5/5 - (6 votes)
26 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

26. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत इस्हाक़ (अ.स) की खुसूसियत व अज़मत, मुअजिजा : हज़रत फातिमा (र.अ) के चेहरे का रोशन हो जाना, एक फ़र्ज़ : तमाम रसूलों पर ईमान लाना, एक सुन्नत : कनाअत और सब्र हासिल करने की दुआ, अहेम अमल : तकलीफों पर सब्र करना, नाप तौल में कमी करने का गुनाह …

24 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

24. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हजरत इस्माईल (अ.स), मुअजिजा : अहद नामे को कीड़े के खाने की खबर देना, एक फ़र्ज़ : गुस्ल के लिए तयम्मुम करना, एक सुन्नत : खुशखबरी सुन कर दुआ पढ़ना, अहेम अमल : जुमा के दिन सूरह कहफ पढ़ना, अल्लाह की आयतों को न मानने का गुनाह …

23 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

23. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा 

हजरत इब्राहीम (अ.स) के अहले खाना, अल्लाह की कुदरत : हवा, एक फर्ज : इशा की नमाज की अहेमियत, कुरआन में अपनी राय को दखल देने का गुनाह, दुआ से बलाओं का टलना …

22 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

22. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हजरत इब्राहीम (अ.स) की आज़माइश, मुअजिजा : एक प्याला दूध सब के लिये काफी हो गया, एक फ़र्ज़ : दाढ़ी रखना, एक सुन्नत : कपड़े पहनने की दुआ, अहेम अमल : अल्लाह के वास्ते मुहब्बत करना, अल्लाह और रसूल का हुक्म न मानने का गुनाह …

21 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

21. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा 

हजरत इब्राहीम (अ.स) को सज़ा देने की तजवीज़, अल्लाह की कुदरत : मोती की
पैदाइश, एक फर्ज : माँ बाप के साथ अच्छ सुलूक करना, ईमान वालों को तकलीफ देने का गुनाह, आख़िरत: अहले जहन्नम की फरियाद …

Juma ka khutba hadees

Khutba-e-Juma ke Adaab

Hadees of the Day

Khutba-e-Juma ke Adaab

Samura Ibne Zundab (R.A) ne kaha ki –
Allah ke Rasool (ﷺ) ne farmaya :

Hazir Raho Khutbey (Jumma ke Khutbe) ke Waqt aur Imaam se Qareeb raho
Isliye ke Aadmi Jis Qadar door rahega usi Qadar Jannat me piche rahega
agarche woh Jannat me Dakhil zaroor hoga.”

📕 Sunan Abu Dawood, Hadees 1108

5/5 - (6 votes)
Hadees about Qarz lene ki Niyat

Qarz ki Adayegi se Muhh na phero

Hadees of the Day

Qarz ki Adayegi se Muhh na phero

RasoolAllah (ﷺ) ne farmaya:

“Jo Logon ka Maal Qarz ke taur par ada karne ke Niyat se leta hai tou Allah Ta’ala bhi uski taraf se ada karega aur
Jo koi tabah(waste) karne ki (yaani na dene ki) Niyat se le tou Allah Ta’ala bhi usko tabah kar dega.”

📕 Sahih Bukhari: Hadees 2387

5/5 - (3 votes)