27 Ramzan | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

27 Ramzan | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

फतेह मक्का, पहाड़ों से चश्मे का जारी होना, सदका-ए-फित्र, जुमा और इदैन के लिए गुस्ल करना, बेटियों की अच्छी तरह परवरिश करना, नमाज़ छोड़ना, दुनिया की मुहब्बत हलाक करने वाली है, अहले जन्नत के उम्दा फर्श, मुसलमान आपस में एक दूसरे के भाई हैं…

Momin Apne Bhai Ka Aa’ina Hai ….

♥ Mafhoom-e-Hadees: Abu Hurairah (RaziAllahu Anhu) Se Riwayat Hai Ki, Rasool’Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Ne Farmaya : “Momin Apne Bhai

Madat Karnewale Ko Allah Ki Madat

♥ Mafhoom-e-Hadees: Nabi-e-Kareem (Sallallahu Alaihay Wasallam) Farmate Hai – “Allah Ta’ala Apne Uss Bande Ki Madad Farmata Rehta Hai Jabtak

Fasiqon Ko Hidayat Nahi

♥ Al-Quraan : Bismillah-Hirrahman-Nirrahim !!! “Aye Nabi (Sallallahu Alaihay Wasallam) Aap Keh Do Insey ! *Ke Kya Tumhare Baap-Dada, Tumhare

close
Ummate Nabi Android Mobile App