हारूत व मारूत

क़दीम ज़माने में शहरे बाबुल (Babylon) में रहने वाले यहुदियों के दर्मियान जादू बहुत ज़्यादा आम हो गया था वह लोग जादू के ज़रिये अजीब व ग़रीब कमालात दिखाते थे यहाँ तक कि बाज़ लोग जादू के ज़ोर पर नुबुव्वत का दावा करने लगते थे।

अल्लाह तआला ने बाबुल शहर में हारूत व मारूत नामी फरिश्तों को भेजा ताकि लोगों को जादू की हक़ीक़त से आगाह कर सकें। चुनाचें लोग इबरत हासिल करने के बजाए दुनिया कमाने और दुसरों को नुक़सान पहुँचाने के लिये उन से जादू सीखने आते थे हलाकि दोनों फरिश्ते जादू सिखाने से पहले यह बता देते थे के हमें तुम्हारी आज़माइश के लिये भेजा गया है।

लिहाज़ा तुम जादू के ज़रिये नाजाइज़  और हराम काम मत करो इससे तुम्हारे क़ुफ्र में मुब्तिला हो जाने का अन्देशा है लेकिन उन लोगों ने नहीं माना और उनसे जादू सीख कर कुफ्र व शिर्क में मुब्तिला हो गए और अपनी दुनिया और आख़िरत को बर्बाद कर डाला।

📕 इस्लामी तारीख

Rate this quotes

और देखे :

Leave a Reply