Browsing Category

उम्मत की इस्लाह

शोहर की फ़रमांबरदारी की फ़ज़ीलत

पोस्ट 07: शोहर की फ़रमांबरदारी की फ़ज़ीलत"अबू हुरैराह रज़िअल्लाहु अ़न्हु से रिवायत है कि" "अल्लाह के रसूल ﷺ ने फ़रमाया:" ❝ जब एक औ़रत अपनी पांच नमाज़ें अदा करे, (रमज़ान के) महीने के रोज़े रखे, अपनी शरमगाह की हिफ़ाज़त करे, और अपने…
Read More...

बेहतरीन बीवी कौन ?

पोस्ट 06: बेहतरीन बीवी कौन ?"अब्दुल्लाह बिन सलाम रज़िअल्लाहु अ़न्हु से रिवायत है कि" "अल्लाह के रसूल ﷺ ने फ़रमाया:" ❝ सब से बेहतरीन औ़रत (बीवी) वो है कि जब तू उसे देखे तो वो तुझे ख़ुश करे, और जब तू उसे कोई हुक्म दे तो तेरी…
Read More...

किस औ़रत से निकाह़ बेहतर है ?

पोस्ट 05: किस औ़रत से निकाह़ बेहतर है ?"अबू हुरैराह रज़िअल्लाहु अ़न्हु से रिवायत है कि" "अल्लाह के रसूल ﷺ ने फ़रमाया:" ❝औ़रत से चार चीज़ों की बुनियाद पर निकाह़ किया जाता है । उसके माल, उसके ख़ानदान, उसकी खूबसूरती और उसके दीन की…
Read More...

बेहतरीन औ़रत और बद्तरीन औ़रत

पोस्ट 04: बेहतरीन औ़रत और बद्तरीन औ़रतअबू उज़ैना सदफ़ी रज़िअल्लाह अ़न्हु रिवायत है कि अल्लाह के रसूल ﷺ ने फ़रमाया: तुम्हारी औ़रतों में बेहतरीन औ़रत वो हैं जो निहायत मुहब्बत करने वाली, खूब औलाद वाली, शोहर की मुवाफ़िक़त करने वाली और…
Read More...

नेक औ़रत बेहतरीन मताअ़् है…

पोस्ट 03: नेक औ़रत बेहतरीन मताअ़् हैअब्दुल्लाह बिन अ़म्र से रिवायत है कि अल्लाह के रसूल ﷺ ने फ़रमाया: "दुनिया मताअ़् है, और दुनिया की बेहतरीन पूंजी नेक औ़रत है।"(मुस्लिम: अर् रिज़ाअ़ 6228) रावी इब्ने अ़म्र…
Read More...

मां बेहतरीन सुलुक की ह़क़दार है…

पोस्ट 02: मां बेहतरीन सुलुक की ह़क़दार हैअबू हुरैराह रजिअल्लाहु अ़न्हु से रिवायत है फ़रमाते हैं: एक शख़्स़ अल्लाह के रसूल ﷺ के पास आया और कहा: ऐ अल्लाह के रसूल, मेरे अच्छे सुलूक का सबसे ज़ियादा ह़क़दार कौन है ? आप ﷺ ने फ़रमाया: तेरी…
Read More...

अल्लाह की रह़मत समझाने के लिए मां की रह़मत की त़रफ़ इशारा करना

पोस्ट 01: अल्लाह की रह़मत समझाने के लिए मां की रह़मत की त़रफ़ इशारा करनाउमर बिन ख़त्ताब रजिअल्लाहु अ़न्हु फ़रमाते हैं कि वो अल्लाह के नबी ﷺ के पास कुछ क़ैदी ले कर आए । उन कैदियों में एक औ़रत भी थी जो (अपने) बच्चे को तलाश कर रही थी ।…
Read More...

दहेज़ की हक़ीकत और दहेज प्रथा के दुष्प्रभाव (Reality of Dowry)

ये वो विषय है जिस पर अगर तफसील से लिखा जाए तो रुकना मुश्किल है। बहरहाल फिर भी हम इस पर दहेज़ के ताल्लुक से कुछ अहम बात करने की कोशिश करेंगे।• सबसे पहली बात अल्लाह रब्बुल इज़्ज़त नें क़ुरआन में फरमाया: “मर्द औरतों पर क़व्वाम हैं इसलिए कि…
Read More...

हज़रत इदरीस अलैहि सलाम » Qasas ul Anbiya: Part 5

Contentनाम-नसब और जमाना हज़रत इदरीस की ख़ास बाते हजरत इदरीस अलैहि सलाम की तालीम का ख़ुलासा बाद में आने वाले नबियों के बारे में बशारत हज़रत इदरीस अलैहि सलाम की ज़मीनी खिलाफ़त॑ हज़रत इदरीस अलैहि सलाम की नसीहते…
Read More...

हज़रत नूह अलैहि सलाम » Qasas ul Anbiya: Part 4

Contentहज़रत नूह अलैहि सलाम पहले रसूल है नूह हक की कौम, दाबत व तब्लीग़ और कौम की नाफ़रमानी नाव की बुनियाद जूदी पहाड़ (अज़ाब का ख़त्म होना) नूह अलैहि सलाम का बेटा नूह अलैहि सलाम का तुफ़ान आम था वा खास नूह अलैहि…
Read More...

काबिल और हाबील » Qasas ul Anbiya: Part 3

Contentक़ाबिल और हाबिल की नज़्र इबरत की जगहकुरआन मजीद ने हज़रत आदम अलैहि सलाम के इन दोनों बैटों का नाम ज़िक्र नहीं किया सिर्फ़ “आदम के दो बेटे” कहकर मुज्मल छोड़ दिया है, अलबत्ता तौरात में उनके नाम बयान किए गए हैं। कुछ…
Read More...

हज़रत आदम अलैहि सलाम » Qasas ul Anbiya: Part 2

Contentआदम अलैहि सलाम की पैदाइश, फ़रिश्तों को सज्दे का हुक्म, शैतान का इंकार सज्दे से इन्कार करने पर इब्लीस का मुनाज़रा इब्लीस ने मोहलत तलब की आदम अलैहि सलाम और दूसरे फ़रिश्तेआदम अलैहि सलाम की तालीम…
Read More...

क़सस उल अंबिया | नबियों के किस्से और वाक़ियात हिंदी में

क़सस उल अम्बिया अम्बिया अलैहि सलाम के वाक़ियात हिंदी में कायनात की पैदाइश और पहला इंसानपहला इंसान इल्मी बहसों से मुतालिक इस्लामी नुक्ता-ए-नज़र (दृष्टिकोण) हज़रत आदम अलैहि सलामआदम अलैहि सलाम पैदाइश, फ़रिश्तों को…
Read More...

अशरा ज़ुल हज की फ़ज़ीलत क़ुरानो सुन्नत की रौशनी में

Contentअशरा ज़ुलहिज्जा क्या है ? अशरा ज़ुलहिज्जा को इतनी फ़ज़ीलत क्यों? अरफ़ा के रोजे की फजीलत सहाबा किराम (र.अ.) का अमल तकबीरों का मसअला कुर्बानी का इरादा रख़ने वाला ज़ुलहिज्जा के दस दिनों में बाल न कटवाए क़ुरबानी की…
Read More...

क़यामत क्या है और क्यों आएगी?

Contentमैदाने हश्र – मुख्य सूचिक़यामत किसे कहते है ? क़यामत क्यों आएगी ? क़यामत की जरुरत क्यों है ? क़यामत कब आएगी ?۞ बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम ۞ क़यामत क्या है ? इस दुनिया में जो भी आया, हर एक ने इसको…
Read More...

कयामत किन लोगों पर कायम होगी?

Contentमैदाने हश्र – मुख्य सूचिज़ालिमों पर क़यामत नाज़िल होगी ठंडी हवा के जरिए मोमिनो को मौत आयेगी हज़ार में 999 दोजखी होंगे۞ बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम ۞ सबसे बड़े ज़ालिमों पर क़यामत नाज़िल होगी हजरत अब्दुल्लाह…
Read More...

कयामत की तारीख की ख़बर?

Contentमैदाने हश्र – मुख्य सूचिक़यामत की तारीख ? कयामत अचानक आ जाएगी जुम्मा का दिन होगा۞ बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम ۞ कयामत की तारीख़ की ख़बर नहीं दी गई अल्लाह रब्बुल इज़्ज़त ही जानता हैं कि कयामत कब आयेगी। कुरान ऐ करीम में…
Read More...

सूर फूंका जायेगा

Contentमैदाने हश्र – मुख्य सूचिसुर क्या है ? दो सुर के दरमियान कितना वक्त होगा ? सुर फुकने के बाद कौन लोग होश में बाकि रहेंगे ?۞ बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम ۞ सुर क्या है ? कयामत की शुरूआत सूर फूंकने से होगी। प्यारे नबी…
Read More...

कजाए उमरी नमाज़ की हकीकत: हिंदी में

अक्सर रमजान का आखरी जुमा आने तक कजा नमाज वाली पोस्ट शोशल मिडीया पर वायरल होती रहती है, यह मैसेज किसने अपलोड किया, कोई नहीं जानता! लेकिन ताज्जुब इस बात का है के, यह कुछ मुसलमान भाई बिना सोचे समझे ऐसे मैसेज खूब फोर्वड कर रहे है , अल्लाह रेहम…
Read More...

रमज़ान का महिना … जानिए: इसमें क्या है हासिल करना ?

हम मुसलमानों ने कुरआन की तरह रमज़ान को भी सिर्फ सवाब की चीज़ बना कर रख छोड़ा है, हम रमज़ान के महीने से सवाब के अलावा कुछ हासिल नहीं करना चाहते इसी लिए हमारी ज़िन्दगी हर रमज़ान के बाद फ़ौरन फिर उसी पटरी पर आ जाती है जिस पर वो रमज़ान से पहले चल रही…
Read More...

शोहर के ख़राब रवैये से हर बीवी के सामने तीन रास्ते होते है

शोहर का ख़राब रवैया देखकर हर बीवी के सामने तीन रास्ते होते है, और हर बीवी इन तीन रास्तों मे से एक रास्ता ज़रूर चुनती है, अगर शोहर बीवी के साथ अच्छा सुलूक नही करता, उसे वक़्त नही देता, मोबाइल टीवी और दोस्तों मे मसरूफ़ रहता है, उसे इज़्ज़त व…
Read More...

बनी इस्राईल पर अल्लाह का अज़ाब और उम्मते मुस्लिमा के लिए इबरत

आज हम जिस हालात से गुजर रहे है आखिर क्या वजह है के हमारा रब हमसे नाराज़ है और ज़ालिम हुकुमराह हमपर मुसल्लत, आईये इसके ताल्लुक से हमसे पिछली उम्मत यानी बनी इस्राईल की हलाकत की मिसाल पर गौर करते है. बनी इस्राईल पर अल्लाह के अज़ाब का पहला वादा:…
Read More...

इस्लाम सुलह और शांति सिखाता है

♥ मफहूम-ऐ-हदीस ﷺ अल्लाह के नबी (सलल्लाहो अलैहि वसल्लम) ने एक रोज़ सहाबा से फ़रमाया: "क्या मै तुम्हे उस चीज़ के बारे में न बता दू जिसका दर्जा रोज़े , नमाज़ , सदके से भी ज्यादा ?" लोगो ने जवाब दिया: ए अल्लाह के रसूल! हमे जरुर बताये!आप…
Read More...

दज्जाल की हकीकत (फितना ऐ दज्जाल) पार्ट 1

दज्जाल कौन है? दज्जाल कहा है? दज्जाल कब निकलेगा? दज्जाल की दावत, दज्जाली फितने की नौईयत व हकीकत, दज्जाल के पैरोकार, दज्जाली ताकतो का तारूफ, दज्जाल से बचने के लिए रूहानी व तजविराती तदबीर (मुफ्ती अबु लुबाबा शाह मंसूर © www.ummat-e-nabi.com)…
Read More...

दज्जाल की हकीकत (फितना ऐ दज्जाल) पार्ट 2

✦ दज्जाल का नाम और इसका मतलब: यहुदी अपने इस नजात दहिन्दा का आखिरी नाम यबुल, युबील, या हुबल बताते है, जो हमारी इस्लामी इस्तलाह मे तागुत और बुतो का नाम है और इसका लकब इनके यहा مسیحا या مسیا है।दज्जाल का असल नाम मालूम नही, क्योंकि हदीस मे…
Read More...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More