Kutte ko Ghar se Nikalna | Post 9 | Islam aur Humara Ghar

कुत्ते को घर से निकालना » पोस्ट 9⃣ » इस्लाम और हमारा घर

पोस्ट 9⃣

“इस्लाम और हमारा घर”

कुत्ते को घर से निकालना

अल्लाह के रसूल ﷺ ने फ़रमाया:
“फ़रिश्ते ऐसे घर में दाखिल नहीं होते जिसमें कुत्ता हो और ना ऐसे घर में जाते हैं जिसमें तस्वीर हो।”

( अहमद, मुत्तफकुन अलैह, नसाई, तिर्मिज़ी, इब्ने माजा )
रावी: अबू तलहा ( स़ही़ह़ अल जामे 7262 )

सिरीज » इस्लाम और हमारा घर

——J,Salafy✒——

▪शेयर करें▪

जिस शख़्स ने किसी नेकी का पता बताया, उसके लिए (भी) नेकी करने वाले के जैसा अजर हैं।
(स़ही़ह़ मुस्लिम: ज़ी. 3, हदीस 4665)

Ahadees in HindiBeautiful Hadees in HindiBest Hadees in HindiBest Islamic Hadees in Hindi LanguageBest Islamic Quotes in HindiJ.Salafyइस्लाम और हमारा घरकुत्ताघरतस्वीरतावीज़फ़रिश्तेशिर्कहदीस की बातें हिंदी में


Recent Posts


Dr. Babasaheb Ambedkar about Islam

इस्लाम धर्म सम्पूर्ण एवं सार्वभौमिक धर्म है जो कि अपने सभी अनुयायियों से समानता का व्यवहार करता है