विरोध समस्यावों के हल के लिए होना चाहिए, नई समस्याएं पैदा करने के लिए नहीं। [कुरआन २:२५६]

समझ भावना को संयम में लता है: 

“विरोध समस्यावों के हल के लिए होना चाहिए,
नई समस्याएं पैदा करने के लिए नहीं।” 

[ कुरआन २:२५६ ]

Ref: Wisdom Media School
#IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com

Share on:

Related Posts:

Trending Post

close
Ummate Nabi Android Mobile App