18 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

18 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

मक्का में बुत परस्ती की इब्तेदा, शौहर का हक अदा करना, डर और घबराहट की दुआ, दोस्तों और पड़ोसियों से अच्छा सुलूक करना, कम दर्जे वाले जन्नती का इनाम, दुनिया से बेरग़बती और आखिरत की रगबत के लिये …

1 Rabbi Ul Awwal

1 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हज़रत ज़करिया (अ.स), अस्र की नमाज़ की फज़ीलत, मेहमान का अच्छे अलफाज़ से इस्तिकबाल करना, पड़ोसी के साथ अच्छा सुलूक करना, रसूलल्लाह (ﷺ) की नाफ़रमानी करने का गुनाह, अल्लाह और उसके बन्दों के हुकूक …

Wo Shakhs kamil iman wala nahi ho sakta …

Hadees: Jo khud pait bhar ke khaye aur uska padosi bhuka reh jaye

Ibne Abbas (R.A.) se riwayat hai ke,
RasoolAllah (Salallahu Alaihi Wasallam) ne farmaya:

‟Wo Shakhs kamil iman wala nahi ho sakta
jo khud pait bhar ke khaye aur
uska padosi bhuka reh jaye.

📕 Shoaib Ul Iman 5660

Ummate Nabi Android Mobile App