Browsing Tag

Meraj Ka Waqia

Shab-e-Meraj par Namaz ka Bayan

۞ Bismillah-Hirrahman-Nirrahim ۞ Mafhoom-e-Hadees: Hazrate Anas bin Malik (Raziallahu Anhu) bayan karte hai ki RasoolAllah (Sallallahu Alaihay Wasallam) ne farmaya:(Shab-e-Meraj me) Allah Ta’ala ne meri Ummat par Pachaas (50) Namazein…
Read More...

इसरा और मेराज एक चमत्कार – Isra aur Meraj ka Safar

मेराज की घटना मुहम्मद (सल्ललाहो अलैहि वसल्लम) का एक महान चमत्कार है, और इस में आप (सल्ललाहो अलैहि वसल्लम) को अल्लाह ने विभिन्न निशानियों का जो अनुभव कराया यह भी अति महत्वपूर्ण है। मेराज के दो भाग हैं, प्रथम भाग को इसरा और दूसरे को मेराज कहा…
Read More...