निसहयोग में कोई भलाई नहीं

निसहयोग में कोई भलाई नहीं

निसहयोग में कोई भलाई नहीं

“जो सहयोग नहीं करता और निसहयोग बनाये रखता है, उसमें कोई भलाई नहीं है।”

📕 पैगंबर मोहम्मद ﷺ