दूसरों के बारे में बुरे विचार मत रखो क्योंकि यह अधिकतर झूठे होते है

दूसरों के बारे में बुरे विचार मत रखो क्योंकि यह अधिकतर झूठे होते है

अल्लाह के अन्तिम ईशदूत मुहम्मद (ﷺ) ने कहा कि :

“दूसरों के बारे में बुरे विचार मत रखो क्योंकि यह अधिकतर झूठे होते है।
लोगों की खराबियों को मत ढूंढो,
दूसरों से जलन न रखो, किसी के पीठ पीछे उसकी बुराई न करो,
घृणा न करो, ईश्वर के भक्त और भाई-भाई बन कर रहो।”

📕 बुखारी शरीफ 6064

Leave a Comment