Categories

अप्रैल फूल और इस्लाम | April Fool aur Islam

अप्रैल फूल और इस्लाम

रसूल अल्लाह (ﷺ) ने फ़रमाया:

“तबाही है उस शख़्स के लिए जो बोलता है तो झूठ बोलता है ताकि उस (झूठ) से लोगों को हंसाए,
तबाही है उस के लिए, तबाही है उस के लिए।”

[ सुनन अबु दाऊद #4989 ]

अप्रैल फूल मनाना इस्लाम में जायज़ नहीं क्योंकि इस दिन लोगों को हंसाने और लोगों को प्रैक के नाम पर परेशान करने के लिए “झूठ” बोला जाता है।

और भी देखे:

Leave a Reply