तीन कार्य जिसमें है, वह सुनिश्चित कपटी है। झूठी बोली, वादा न निभाना और धोखेबाज होना।

कपट त्याग दें :  

“तीन कार्य जिसमें है, वह सुनिश्चित कपटी है।

झूठी बोली, वादा न निभाना और धोखेबाज होना”

[ पैगंबर मोहम्मद ﷺ ]
स्रोत: सहीह अल बुखारी ३३, सहीह अल मुस्लिम ५९

Ref: Wisdom Media School
#IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com

Share on:

Related Posts:

Trending Post

Leave a Reply

close
Ummate Nabi Android Mobile App