रोजों के मसाइल क़ुरआन और सुन्नत की रौशनी में।

Content रोज़ा कुरआने मजीद की रोशनी में रोजे की फजीलत रमज़ान की अहमियत चांद देखने के मसाइल रोज़े के नीयत के मसाइल सहरी व इफ्तारी के मसाइल रोजे की रुख्सत (छूट) के मसाइल कज़ा रोज़ों के मसाइल वह बाते जिन से रोज़ा मकरूह नहीं होता वह बातें जो रोजे की हालत में मना हैं। रोज़े […]

हज़रत लूत अलैहि सलाम » Qasas ul Anbiya: Part 11

Content हज़रत लूत व इब्राहीम अलैहि सलाम मिस्र से वापसी कौमे लूत हज़रत लूत और तब्लीगे हक हजरत इब्राहीम और अल्लाह के फ़रिश्ते ۞ बिस्मिल्लाहिररहमानिरहीम ۞ हज़रत लूत व इब्राहीम अलैहि सलाम: हजरत लूत हज़रत इब्राहीम अलैहि सलाम के भतीजे हैं और उनका बचपन हज़रत इब्राहीम ही की निगरानी में गुजरा और उनकी नशरोनुमा हजरत इब्राहीम ही व […]

शबे बरात से पहले मुआफ़ी मांगना कैसा ?

👉🏽आजकल व्हाट्सऐप और फेसबुक पर शबे बारात के हवाले से लोग एक दूसरे से अपनी गलतियों की मुआफ़ी मांग रहे हे और ये समज रहे हे हमने मुआफ़ी का हक्क अदा कर दिया.! 🔅इंसान के दो हक्क है एक हकुकुल्लाह और दुसरा हुकुकुल ईबाद🔅 👉🏽एक अल्लाह(عَزَّوَجَلَّ) का हक्क है जैसे की… हमने नमाज़ नही पड़ी, […]

कोरोना वायरस: संक्रामक रोग एवं इस्लाम

आजकल कोरोना वायरस चारों तरफ फैल चुका है, लोगों के अंदर दहशत पैदा हो चुकी है, खासतौर से मुसलमानो में कोरोना  वायरस के बारे में बेशुमार गलतफहमियां पायी जा रही है , तो आईये इस पोस्ट में कोरोना वायरस जैसे संक्रामक रोग के बारे में इस्लाम में क्या नेतृत्व किया है इसपर अध्ययन करते है। […]

क़ियामत कब आएगी | क़ियामत की छोटी और बड़ी निशानियाँ

۞ बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम ۞ अल्लाह के नाम से शुरू जो अति मेहरबान और दयालु  हैं।  हर प्रकार की हम्द व सना (प्रशंसा और गुणगान) अल्लाह के लिए योग्य है, हम उसी की प्रशंसा करते हैं, उसी से मदद मांगते और उसी से क्षमा याचना करते हैं, तथा हम अपने नफ्स की बुराई और अपने बुरे कामों […]

कोरोना के डर से घरों में नमाज़ अदा करना कैसा है?

कुछ खाडी देश जिन में सऊदी अरब भी शामिल है, वहां की राज्य सरकार की तरफ से मस्जिदों में पंज वक्ता और नमाज़े जुमा पर पाबन्दी लगाने से मुस्लिम समाज में यह सवाल उठाया जा रहा है कि क्या ऐसा करना सही है?, क्या क़ुरआन व हदीस की रोशनी में मस्जिद बन्द करने और फराइज़ […]

इसरा और मेराज एक चमत्कार | Isra aur Meraj ka Safar

मेराज की घटना मुहम्मद (सल्ललाहो अलैहि वसल्लम) का एक महान चमत्कार है, और इस में आप (सल्ललाहो अलैहि वसल्लम) को अल्लाह ने विभिन्न निशानियों का जो अनुभव कराया यह भी अति महत्वपूर्ण है। मेराज के दो भाग हैं, प्रथम भाग को इसरा और दूसरे को मेराज कहा जाता है, लेकिन सार्वजनिक प्रयोग में दोनों ही […]

और (हे मनुष्य!) तेरे पालनहार ने आदेश दिया है कि उसके सिवा किसी की इबादत (वंदना) न करो तथा माता-पिता के साथ उपकार करो।” [कुरआन १७:२३] #Hadees #DailyHadees #HadeesoftheDay

अच्छाई उदारता नहीं है:  माता-पिता के साथ अच्छा बर्ताव अनिवार्य है उदारता नहीं। “और (हे मनुष्य!) तेरे पालनहार ने आदेश दिया है कि उसके सिवा किसी की इबादत (वंदना) न करो तथा माता-पिता के साथ उपकार करो।” (कुरआन १७:२३) Ref: Wisdom Media School | #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com

सताए हुए की आह से बचो, क्यूंकि उसके और अल्लाह के मध्य कोई रुकावट नहीं होती। #Hadith #DailyHadith #HadithoftheDay

पैग़म्बर मुहम्मद (ﷺ) ने फ़रमाया: ❝ सताए हुए की आह से बचो, क्यूंकि उसके और अल्लाह के मध्य कोई रुकावट नहीं होती। ❞ 📕 बुख़ारी | #IslamicQuotes by Quotes.Ummat-e-Nabi.com

अल्लाह के साथ शिर्क न करना अगरचे तुम टुकड़े टुकड़े कर दिए जाओ और जला दिए जाओ। [हदीस: इब्ने माजाह 4034] #IplusTV #IslamicQuotes #Hadees #DailyHadees #HadeesoftheDay

۞ हदीस : अल्लाह के पैगम्बर (ﷺ) ने फ़रमाया : “अल्लाह के साथ शिर्क न करना अगरचे तुम टुकड़े टुकड़े कर दिए जाओ और जला दिए जाओ।” 📕 सुनन इब्ने माजाह; 4034 – सहीह

सत्य साधक के लिए कुरआन मार्गदर्शक है। “वास्तव में, ये कुरआन वह मार्ग दिखाता है, जो सबसे सीधी है…” (कुरआन 17:9) #Hadees #DailyHadees #HadeesoftheDay

सत्य साधक के लिए कुरआन  मार्गदर्शक है। “वास्तव में, ये कुरआन वह मार्ग दिखाता है, जो सबसे सीधी है…” (कुरआन  17:9) Ref: Wisdom  Media School | #IslamicQuotes by Ummat-e-Nabi.com