जकात न देने का गुनाह

रसूलुल्लाह ने फरमाया : “जकात का अदा न करने वाला क़यामत के दिन जहन्नम में जाएगा।”

कुफ्र की सज़ा जहन्नम है

कुरआन में अल्लाह तआला फ़र्माता है: “जो लोग कुफ्र करते हैं तो अल्लाह तआला के मुकाबले में उन का माल

नमाज़ छोड़ने का गुनाह

रसलुल्लाह (ﷺ) ने फ़र्माया: “जो शख्स जान बूझकर नमाज़ छोड़ देता है, अल्लाह तआला उसके सारे आमाल बेकार कर देता

मुनाफ़िक की निशानियाँ

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फ़र्माया: “मुनाफ़िक की तीन निशानियाँ हैं: जब बात करे तो झूट बोले, वादा करे तो पूरा न करे,

सब से बड़ा सूद

✦ सईद इब्न ज़ैद रदी अल्लाहू अन्हु से रिवायत है की रसूलअल्लाह (ﷺ) ने फरमाया “सब से बड़ा सूद ये

घमंड करने वाले का अंजाम

रसूलअल्लाह सलअल्लाहू अलैहि वसल्लम ने फरमाया “क़यामत के दिन मुतक़ब्बीर (घमंड करने वाले) लोगों को मैदान ए महशर में छोटी

close
Ummate Nabi Android Mobile App