18 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

18 Rabi-ul-Awal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

मक्का में बुत परस्ती की इब्तेदा, शौहर का हक अदा करना, डर और घबराहट की दुआ, दोस्तों और पड़ोसियों से अच्छा सुलूक करना, कम दर्जे वाले जन्नती का इनाम, दुनिया से बेरग़बती और आखिरत की रगबत के लिये …