30. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

30. Safar | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत उज़ैर (अ.स), सज्दा-ए-सहव करना, मोमिन के हक़ में दुआ, बरकत वाला निकाह, रसूलुल्लाह (ﷺ) के हुक्म को ना मानने का गुनाह,जनाज़े को दफ़नाने में देर ना करो …

close
Ummate Nabi Android Mobile App