इश्वर सभी मानव जाती को सही राह दिखाए …

♥ Wed-Puraan Ki Neew Bhi Tawheed(Only One God) Par !!!
» १. सिर्फ एक इश्वर ही की उपासना करो. – ऋग्वेद ६:४: १६
» २. वो (इश्वर) एक है उसका कोई साझी नहीं . – छान्दोग्य उपनिषद् ६:२:१
» ३. उसकी कोई प्रतिमा नहीं है, उसका नाम ही अत्यंत महान है, सबसे बड़ा यश यही है. – यजुर्वेद ३२ :३
» ४. वोह (परमेश्वर) शारीर विहीन(Bodyless) और पाक है. – यजुर्वेद ४०:८
» ५. उसके सिवा किसी की उपासना ना करो, वो ही परमेश्वर है उसी की तारीफ़ करो. – ऋग्वेद ८:१:१
» ६. सिर्फ वो एक ही स्वयं से (बिना किसी के जन्म दिए) अकेला विधमान है. – अथर्ववेद १:४:१२
» ७. एक इश्वर ही पूजा के योग्य और सभी पिजातियो में स्तुति के योग्य है. – अथर्ववेद २:२:१
» ८. जो असम्भूति अर्थात प्रकृति रूप से जड़ पधार्थ (अग्नि , मिटटी , वायु आदि ) की उपासना करते है वोह अज्ञान के अन्धकार में प्रिविश्त होते है और जो “सम्भूति” अर्थात इन प्रकृति पदार्थो के परिणाम स्वरुप सृष्टी (पेड़, पौधे, मुर्तिया आदि) में रमन करते है, वेह उससे भी अधिक अंधकार में पड़ते है. – यजुर्वेद ४:९

» शिक्षा / सबक: वेदों में भी एक इश्वर के सिवा कसी की भी उपासना करने से मना किया है, लेकिन वक्त के साथ साथ लोगों ने अपने हाथो से अपने अपने उपसना योग्य घटक बना लिए.
!!! इश्वर सभी मानव जाती को सही राह दिखाए …

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More