Galatiya Nikalne ke Maksad se Quran ka padhna meri hidayat ki wajah bana: Dinesh Sinh

गलतियाँ निकालने के मक्सद से कुरान का पढना, मेरी हिदायत की वजह बना: पूर्व दिनेश मोहन सिंह अब मुजाहिद उल इस्लाम


कुरान ईश्वरीय ग्रन्थ है इसमें कोई संदेह नहीं, जब खुद श्रुष्टि का रचयेता अपने ग्रन्थ में सम्पूर्ण मानवजाति से कहता है के “ये कुरान मेरा अवार्तरित ग्रन्थ है, हे मानवों ! तो तुम्हारे जीबन और मृत्यु के पश्चात् जो होगा इसका वर्णन हम इस कुरान में कर रहे है,. लेकिन अगर तुम्हे इसमें कोई संदेह हो तो इसे पढो और इसमें से गलतियाँ निकाल कर बता दो,.”

*यह चैलेंज अल्लाह ने कुरान के माध्यम से सम्पूर्ण मानवजाति को दिया ,..
– इसी चलेंगे के जीते जागते नमूने हम आये रोज़ दुनिया भर में इस्लाम के अपनाने वालो की तादाद में बढ़ोतरी के माध्यम से देख ही रहे है ,. दिनेश भाई की इस्लाम अपनाने की दास्ताँ भी हम सब के लिए प्रेरणायोग्य है ,.
*कृपया कर इस विडियो को ज्यादा से ज्यादा शेयर कर अपने गैरमुस्लिम भाइयो तक पोह्चाये. ताकि उनमे भी कुरान पढने की आस्था जाग जाये ,..
अँधेरे से उजाले की ओर दिनेश भाई अब मुजाहिद उल इस्लाम

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More