साँस लेने का निज़ाम, बलग़म के फायदे

जब हम गर्द व गुबार वाली हवा में साँस लेते हैं तो मिट्टी के ज़र्रात भी उस में शामिल हो जाते हैं। जिनसे हिफाजत के लिये अल्लाह तआला ने नाक से फेफड़े तक हवा के रास्ते में बलगम पैदा कर दिया है जो हवा की नालियों को तर (गिला) रखता है, जब हवा उन नालियों से गुज़रती है तो उस में मौजूद गर्द व गुबार बलग़म से चिपक जाते हैं और साफ सुथरी हवा फेफड़े में पहुँच जाती है, फिर बलगम के जरिये यह गर्द व गुबार साँस की नालियों के बाहर आ जाता है। सुबहानल्लाह !

अल्लाह ने अपनी कुदरत से हमारे फेफड़े की हिफाज़त का कैसा गैबी इन्तेजाम फ़रमाया है।

📕 अल्लाह की कुदरत

5/5 - (1 vote)

और देखे :

Leave a Reply