मिस्वाक दाँतों की चौड़ाई में करना

रबीआ बिन अकसम (र.अ.) फ़रमाते हैं के

“रसूलुल्लाह (ﷺ) दांतों की चौड़ाई में (यानी दाएँ से बाएँ और बाएँ से दाएँ) मिस्वाक फरमाते थे।”

Rate this quotes

📕 सुनने कुबरा लिल बैहकी:४०/२

और देखे :

Leave a Reply