मिस्वाक दाँतों की चौड़ाई में करना

रबीआ बिन अकसम (र.अ.) फ़रमाते हैं के:

“रसूलुल्लाह (ﷺ) दांतों की चौड़ाई में (यानी दाएँ से बाएँ और बाएँ से दाएँ) मिस्वाक फरमाते थे।”

📕 सुनने कुबरा लिल बैहकी: ४०/२

5/5 - (1 vote)

और देखे :

Leave a Reply