इल्म की फजीलत

रसूलल्लाह (ﷺ) ने फरमाया :

“इल्म की फजीलत इबादत की फजीलत से बेहतर है और दीन में बेहतरीन चीज़ तक़वा व परहेजगारी है।”

📕 तबरानी औसत: ४१०७

और देखे :

Trending Post

Leave a Reply

Ummate Nabi Android Mobile App