Categories

हँसाने के लिये झूट बोलने का गुनाह

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फ़र्माया:

“उस शख्स के लिये हलाकत है, जो लोगों को हँसाने के लिये कोई बात कहे और उसमें झूट बोले, उसके लिये हलाकत है, हलाकत है।”

Leave a Reply