12 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

12. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हजरत नूह (अ.स) की दावत, मुअजिजा : दरख्त का हुजूर (ﷺ) को इत्तेला देना, एक फ़र्ज़ : नमाजी पर जहन्नम की आग हराम है, अहेम अमल : नेअमत के मिलने पर अल्हम्दुलिल्लाह कहना, अल्लाह के साथ शिर्क करने का गुनाह, दुनिया चाहने वालों का अन्जाम …

11 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

11. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा 

तारीख: हज़रत नूह (अ.स), अल्लाह की कुदरत : बादल, एक फ़र्ज़: बीवी की विरासत में शौहर का हिस्सा, अहेम अमल : शुक्रिया अदा करने की दुआ, एक गुनाह: झूटी गवाही शिर्क के बराबर …

10 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

10. मुहर्रम | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हज़रत इदरीस (अ.स) की दावत, मुअजिजा : अबू जहल पर खौफ, एक फ़र्ज़ : पर्दा करना फर्ज है, अहेम अमल : नमाज़े चाश्त की फ़ज़ीलत, कुफ्र व शिर्क का नतीजा
तिलावत ऐ कुरआन और जिक्रे इलाही की फ़ज़ीलत …

9 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

9 Muharram | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हज़रत इदरीस, अल्लाह की कुदरत : चाँद का फायदा, एक फ़र्ज़ : पाँचों नमाजें अदा करने पर बशारत, अहेम अमल : माहे मुहर्रम में रोजे का सवाब, बिला शराब पीने का गुनाह …

8 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

8 Muharram | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख: हजरत शीस (अ.), हुजूर (ﷺ) का मुअजीजा: बैतुल मुक़द्दिस के बारे में खबर, एक सुन्नत: तक्बीरे तहरीमा के बाद दुआ, एक अहेम अमल: आशूरा का रोज़ा …

7 Muharram | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

7 Muharram | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: काबील और हाबील, अल्लाह की कुदरत : सूरज, एक फ़र्ज़ : दीन में नमाज़ की अहमियत, अहेम अमल : आशूरा के रोजे का सवाब, बिला ज़रूरत मांगने का वबाल …

6 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

6 Muharram | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हज़रत आदम (अ.स) का दुनिया में आना, मुअजिजा : चाँद के दो टुकड़े होना, एक सुन्नत: मेजबान को दुआ देना, अहेम अमल : माहे मुहर्रम में रोजा रखना, यतीमों का माल खाने का गुनाह …

5 Muharram | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

5 Muharram | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: हज़रत आदम (अ.स), अल्लाह की कुदरत : ज़मीन और उस की पैदावार, सुबह की नमाज़ अदा करने पर हिफाजत का जिम्मा, एक सुन्नत: पूरे सर का मसह करना, अहेम अमल : इस्लाम में बेहतर आमाल, गुनाह की वजह से रिज़्क से महरूमी …

30 Zil Hijjah | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

30 Zil Hijjah | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

तारीख: तातारी फ़ितना और आलमे इस्लाम, हुजूर (ﷺ) का मुअजिजा : रौशनी का तेज़ होना, एक फर्ज : नमाज़े जुमा के लिए जमात का होना, अहेम अमल : मोमिन की परेशानी में मगफिरत , एक गुनाह : बुरे कामों की सज़ा, नज़रे बद और शैतानी असर से हिफ़ाज़त …

29 Zil Hijjah | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

29 Zil Hijjah | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

इस्लामी तारीख : टीपू सुलतान की शहादत, मेरे नजदीक शेर की एक दिन की जिंदगी गीदड़ की सौ साला जिंदगी से बेहतर है। , अल्लाह की कुदरत: हवा में आवाज़, एक फर्ज : वालिदैन के साथ अच्छा बर्ताव करना …

जन्नत में दाखले के लिये ईमान शर्त है

जन्नत में दाखले के लिये ईमान शर्त है

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फ़र्माया :

“जिस शख्स की मौत इस हाल में आए, के वह अल्लाह तआला पर और क़यामत के दिन पर ईमान रखता हो, तो उससे कहा जाएगा, के तूम जन्नत के आठों दरवाज़ों में से जिस से चाहो दाखिल हो जाओ।”

📕 मुसनदे अहमद : ९८

4.9/5 - (12 votes)
Islamic Quotes in Hindi

Islamic Quotes in Hindi | पैगम्बर हजरत मुहम्मद साहब (ﷺ) की शिक्षाओं की एक झलक

Islamic Quotes in Hindi अल्लाह के आखरी पैगंबर मुहम्मद साहब (ﷺ) की शिक्षाओं की एक …

Read MoreIslamic Quotes in Hindi | पैगम्बर हजरत मुहम्मद साहब (ﷺ) की शिक्षाओं की एक झलक

insha Allah meaning in hindi

इंशाअल्लाह का मतलब हिंदी में

insha Allah meaning in hindi | इंशाअल्लाह का मतलब होता है: ‘अगर अल्लाह ने चाहा’ तो। जब कोई शख्स भविष्य में कोई कार्य करना चाहता है, या उसका इरादा करता है…

Series: Seerat un Nabi (ﷺ) | Post 1

सिरतून नबी (ﷺ) सीरीज | Part 1

✦ अजीब रोशनी ✦ सीरीज सीरत-उन-नबी ﷺ की शुरूआत ✦ अरबों की ईद ✦ जमजम के करीब नाइला और आसफ का बूत ✦ बुतों का रुस्वा होकर गिर पड़ना ✦ मक्के पर अल्लाह का कहर ✦ काहिन अबरश ✦ दुनिया करवट लेने वाली है …

19 Zil Hijjah | Sirf Paanch Minute ka Madarsa

19 Zil Hijjah | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हज़रत मौलाना जलालुद्दीन रूमी (रह.), सितारे, तकदीर पर ईमान लाना, खूशबू को रद नहीं करना चाहिए, हाजी से मुलाकात करना, मुसलमानों के क़त्ल में मदद करने की सज़ा , दुनिया से बे रग़बती पैदा करना …

Ummate Nabi Android Mobile App