सदके से शैतान की शिकस्त

सदके से शैतान की शिकस्त

रसूलुल्लाह (ﷺ) ने फर्माया :

“जब कोई शख्स किसी चीज़ को सदके में निकाल देता है, तो सत्तर शैतानों के जबड़े टूट जाते हैं।”

📕 मुस्तदरक: १५२९ अन बुरैदा (र०)