Browsing Category

Islam & Science

Qurane Majid ke mojzat Modern Science ke hawale se in Roman Urdu Hindi English & Marathi

पवित्र क़ुरआन और परमाणु: (Holy Quran & Atoms)

*तमाम संस्कृतियों में मानवीय शक्ति वचन और रचनात्मक क्षमताओं की अभिव्यक्ति के प्रमुख साधनों में साहित्य और शायरी (काव्य रचना) सर्वोरि है। विश्व इतिहास में ऐसा भी ज़माना गु़ज़रा है जब समाज में साहित्य और काव्य को वही स्थान प्राप्त था जो आज विज्ञान और तकनीक को प्राप्त है।- गै़र-मुस्लिम भाषा-वैज्ञानिकों…

नर और मादा पौधे (Holy-Quran & Botany) ….

*पवित्र क़ुरआन और वनस्पति विज्ञान: - प्राचीन काल के मानवों को यह ज्ञान नहीं था कि पौधों में भी जीव जन्तुओं की तरह नर (पुरूष) मादा (महिला) तत्व होते हैं। अलबत्ता आधुनिक वनस्पति विज्ञान यह बताता है कि पौधे की प्रत्येक प्रजाति में नर एवं मादा लिंग होते हैं। यहां तक कि वह पौधे जो उभय लिंगी (unisexual) होते…

पशुओं और परिंदों का समाजी जीवन …

*पवित्र क़ुरआन और जीव विज्ञान (Holy Quran & Biology)♥ अल-क़ुरआन: "धरती पर चलने वाले किसी पशु और हवा में परों से उड़ने वाले किसी परिंदे को देख लो यह सब तुम्हारे ही जैसी नस्लें हैं और हम ने उनका भाग्य लिखने में कोई कसर नहीं छोड़ी हैः फिर यह सब अपने रब की ओर समेटे जाते हैं।" - (सूर: 6 ; आयत-38 )…

मधु (शहद) मानवजाति के लिये, शिफ़ा (रोग मुक्ति)

*पवित्र क़ुरआन और चिकित्सा-विज्ञान (Holy Quran & Medical Science) ..*शहद की मक्खी कई प्रकार के फूलों और फलों का रस चूसती हैं और उसे अपने ही शरीर के अंदर शहद में परिवर्तित करती हैं। इस शहद यानि मधु को वह अपने छत्ते के बने घरों (cells) में इकटठा करती हैं। आज से केवल कुछ सदी पहले ही मनुष्य को यह…

Quran Jadeed Science aur Muslim Scientist by Adv. Faiz Syed

The Quran and Modern Science, quranic verses on science, quran and science discoveries, science in the quran, Big Bang in Quran, quranic verses about creation of universe, Quran on the creation of the universe, Biology of the Holy Quran, Life of plant in Quran, human creation in quran, embryology in…

Quran Historical Places Part 1

historical places mentioned in quran, islamic historical places in urdu video, islamic historical places with names, islamic historical places in the world in urdu, islamic historical places pictures, islamic historical places in medina

Quran Historical Places Part 2

baitul muqaddas history in hindi, historical places mentioned in quran, islamic historical places in urdu video, islamic historical places with names, islamic historical places in the world in urdu, islamic historical places pictures, islamic historical places in medina

कुरान में Orbits, Nebula aur Big Bang theory का ज़िक्र

❝ सूर्य चन्द्रमा को अपनी ओर खींच नहीं सकता और ना दिन, रात से आगे निकल सकता है. ये सब एक कक्षा (Orbit) में अपनी गति के साथ चल रहे है.❞  • दिन के रात से आगे निकलने के शब्द देखिये, पृथ्वी से ऊंचाई पर जाकर देखा जाये तो इस दृश्य का इन्ही शब्दों में उल्लेख किया जा सकता है की दोनों एक दुसरे का पीछा कर रहे है.…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-15

Ek Mashoor Aur Maruf Shakhsiyat "Ms. Carleton Fiorina" Jo Ke H.P. Ki CEO Thi, aur Iss Khatun Ne Ek Speech Di Thi Jo HP ki All Worldwide Company Managers Ki Meeting Thi, Usmey Yeh Khatun CEO Thi Uss Zamane me.. Yeh Speech Unhone di Hai 26 September 2001 Ko ,.. Yaani 11 Sept 2001 Ko World Trade Center Ka…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-14

✦ Al'khwarizmi (Inventor of Algorithm): Koun Nahi Pahchanta Inhe.. Inke Naam Se “Algorithm”. Jo bhi Science Padha Ho, aur Bilkhusus Science Jo Technology Ka Ho .. Log Iss Naam Ko Behtar Jante Hai.. Yeh “Algorithm” Al'khwarizmi Ki Hi Deyn Hai.. Inhone Kaha Ke Kisi Bhi Pechida Masle Ko Hal Karne Ke Liye…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-13

Jab America Ne Iraq Par Saddam Husain Ki Pahli Jung Ke Baad Embargo Laagu Kiya Tab Unhone Inko Dawayi Dena Band Kar Diya Tha, Jiski Vajah Se Hazaro Musalman Martey Rahe Saalo-Saal Tak, Sirf “Parastomal” Jaise Dawa Nahi Bana Sakti Koi Muslim Mumalik Uss Tareekh Se Aaj Tak , aur Ye “Parastomal” Itna Aam…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-12

✦ AVERROES (Ibn Rushd):Jo Log Falsafa(Philosophy) Padhtey Hai Wo Jarur Jantey Honge Averroes Ko, Inka Asal Naam "Ibn Rushd" Tha ,Ye Bohot Badey Falsafi (Philosopher) They, aur Tamam Ki Tamam Jitni Bhi Paintings "Leonardo Da Vinci" Ne Banayi Jo Bohot Mash’hur Italiyan Painter Tha! Wo Jarur Apni…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-11

Yaad Rakhiye Maazi (Past) Me Humare Halaat Aise Nahi They, Wo Musalman Jo Acche Musalman They Sath Me Duniya Ka Bhi Ilm Khub Rakhtey They.* Badey-Badey Jo Kisi Maslaq Ke Qaazi, Haakim Hua Karte; Sath Me Badey-Badey Scientist Bhi Hua Karte They ,.. Badey-Badey Fun Ke Maahir Bhi Hua Karte They.*…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-8

Ek Missal Deta Hu, Ke Kaise-Kaise Inkashafat Quraan Ne Wo Cheezo Ke Baarey Me Bataya Jisko Humne Duniyawi Ilm Keh Kar Chorr Diya ,.. Allah Ta'ala Farmata Hai: Surah Anmbiya (21) Ayat 30 Me Farmaya: Yeh Itni Behtareen Aayat Hai, Ismey Allah Rabbul Izzat Ne Humari Khalqat Ka Bayan Kiya Aur Farmaya:…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-7

Allah Rabbul Izzat Ne Quraan Me Baar Baar Musalamno Ko Ubhara Hai Duniyawi Ilm Haasil Karne Ke Liye, Sharayi Ilm Tou Yakinan Haasil Karna Hai Yeh Tou Buniyaad Hai Iski... Lekin Uskey Saath-Saath Duniyawi Ilm Bhi Haasil Karna Hai ,.. Jo Bohot Se Logone Isko Tark Kar Diya ... • Momin Ki Sifat Ke Wo Zikr…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-6

Jaha Quraan Me 6600 Se Jyada Ayate Hai Usmey Se Kamobesh 1000 Se Jyada Aayate Uss Uloom (Subject) Par Hai Jisko Hum Duniyawi Ilm Bolkar Chorr Detey Hai ,.. *Jaise Zameeno-Aasmaan Ki Paidaish, Humare Khud Ki Paidaish, Chareend aur Parind Ke Taalluk Se , Aasmaan Se Paani Barasney Ke Talluk Se , Allah…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-5

Yeh Duniyawi Ilm Bhi Yaad Rakhiye Hissa Hai Dini Uloom Ka Kyunki Bohot Se Log Samjhtey Hai Ke Geography, Physics, Mathematics, Biology, Anatomy Aur Digar Jo Bhi Subjects Hotey Hai Yeh Sab Islam Se Hatkar Hai! Jabki Yeh Islam Ka Hissa Hai Yaad Rakhiye ,.. *Kyunki Jab Insan Zameen aur Aasmaan Ka Ilm…

Ilm Ki Ahmiyat: Part-4

✦ Ilm Kya Hai ? Umar Ibne Khattab (Razi'Allahu Anhu) Se Ek Martba Sawaal Kiya Gaya Ke: 'Ilm Kya Hai?' Aapne Farmaya: "Ilm Wo Hai Jo Allah Ki Kitaab Me Hai , Yaani Jo Allah Ne Kaha Wo Ilm Hai , Aur Jo Rasool'Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Ne Kaha Wo Ilm Hai , Aur Koi Shakhs Yeh Kahe Ke 'Mujhe Nahi…

कुरान और समुद्र विज्ञान – मीठे और खारे पानी के बीच ‘आड़‘

" शुरु अल्लाह (ईश्वर) के नाम से ...." ♥ अल कुरान: ये अल्लाह ही है जिसने पानी के दो धारे आज़ाद छोड़ रखे है ! वो आपस में मिलते है लेकिन घुलते नहीं. इनके दरमियान एक हद्दे फासिल (बरज़ख) है जिसे वो तजाउज़ (Contravention) नहीं कर सकते. - (सुरा 55: आयात 19 & 20)विडियो देखे :आप देख सकते हैं कि इन…

कुरआन और भू-विज्ञान !! “Earth Science” –

!! तंबुओं के खूंटों की प्रकार, पहाड़ भू-विज्ञान में.. ‘बल पड़ने, Folding की सूचना नवीनतम शोध का यथार्थ है। पृथ्वी के ‘पटल Crust में बल पड़ने के कारणों से ही पर्वतों का जन्म हुआ। पृथ्वी की जिस सतह पर हम रहते हैं किसी ठोस छिलके या पपड़ी की तरह है, जब कि पृथ्वी की भीतरी परतें Layer बहुत गर्म और गीली हैं…

कुरआन और समुद्र-विज्ञान !! समुद्र की गहराइयों में अंधेरा …

समुद्र-विज्ञान और भू-विज्ञान के जाने माने विशेषज्ञ प्रोफेसर दुर्गा राव जद्दा स्थित शाह अब्दुल अजी़ज़ यूनिवर्सिटी, सऊदी अरब में प्रोफ़ेसर रह चुके हैं। एक बार उन्हें निम्नलिखित पवित्र कुरान की आयत(श्लोक) की समीक्षा के लिये कहा गया जिसमे अल्लाह फरमाता है - ♥ "या फिर उसका उदाहरण ऐसा है जैसे एक गहरे समुद्र…

कुरान में इंसान के चंद्रमा पर पहुँचने का वर्णन ….

♥ "हे जिनों और इंसानों की टोलियों! अगर तुम समझते हो की आसमान और पृथ्वी के वियासो (Diameters) में से गुज़र कर पार निकल सकते हो तो ऐसा कर देखो अतिरिक्त बल के इस्तेमाल के बिना नहीं कर सकोगे. अब तुम अपने रब के किन-किन वरदानो को झूट्लाये जाओगे " - अल-कुरान: सूरह 55: आयात 33-34शक्ति और वेग के नियमो पर…

परलोक का रूप बिल्कुल सूरे मुल्क की आयत जैसा है। – (फ्रैंक ट्रिपलर) ….

मुसलमान केवल कुरान और हदीस पर विचार कर के बहुत जल्द उस मुकाम पर पहुंच सकते हैं जहां अत्यधिक विकसित देश कई सालों की रिसर्च और अरबों डॉलर खर्च कर के पहुँचे हैं..दुनिया के मशहूर वैज्ञानिक, वर्तमान समय में भौतिकी के सबसे बड़े शोधकर्ता फ्रैंक ट्रिपलर (Frank Trippler) की चार सौ पेज की मशहूर किताब Physics…

लोहे का स्रोत !! पवीत्र कुरआन में ….

आधुनिक युग में खगोलशास्त्रियों ने यह खोज की है कि पृथ्वी पर जितना भी लोहा पाया जाता है, उसका उत्पादन पृथ्वी पर नहीं, बल्कि अंतरिक्ष में फैले हुए बड़े-बड़े सितारों पर हुआ था और उल्कापिंड के पृथ्वी से टकराने से यहां तक पहुंचा है। क़ुरआन ने लोहे के पृथ्वी के बाहर से यहां आने की बात 1400 वर्ष पूर्व ही बता दी…

जानीये – क्यों हराम है सुअर का मांस ….

इस्लाम में सुअर का माँस खाना वर्जित(हराम) होने की बात से सभी परिचित हैं। निम्नलिखित तथ्यों द्वारा इस प्रतिबन्ध की व्याख्या की गई है।1). सुअर के मांस का निषेध पवित्र कुरआन में । पवित्र क़ुरआन में कम से कम चार स्थानों पर सुअर का मांस खाने की मनाही की गई है। पवित्र क़ुरआन की सूरह 2 आयत 173, सूरह 5 आयत…

Bachcha Maa Ke Pait Mein Kis Tarah Banta Hai

♥ Al-Quraan: Bismillah-Hirrahman-Nirrahim !!!"Aye logon! agar tumhey phir se zinda honey me shaq hai tou humney tumhey (pahli baar bhi toh) mitti se paida kiya tha, phir uss se nutfa (mixed drops of male and female) bana kar phir uss se khoon ka lothda (clot) bana kar phir uss se boti (little lump of…

Quraan Me Por (Finger Prints) Ki Kyun Baat Ki ? ….

Allah Rabbul Izzat Quraan Me Farmata Hai - ♥ Al-Quraan : Bismillah-Hirrahman-Nirrahim !!! "Kya Insan Yeh Khayal Karta Hai Ki Hum Uski Haddiyon Ko Hargiz Ikhat'ta Nahi Karenge' Kiyon Nahi ! Ham Tou Uss Baat Par Bhi Qaadir Hain Ke Uski Ungliyon Ke Poron(Finger Print) Tak Ko Durust Kar Denge" - (Surah:…