8 Shawwal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

8 Shawwal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत खब्बाब बिन अरत (र.अ), फलों में बरकत, तकबीरे ऊला से नमाज़ पढ़ना, छींक की दुआ, खुशूअ वाली नमाज माफी का जरिया, जुल्म से न रोकने का वबाल, मखलूक का रिज्क अल्लाह के जिम्मे है, जहन्नमी हथोड़े, इस्लाम में कौन सी बात खूबी की है? …

6 Shawwal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

6 Shawwal | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

हजरत जमीला बिन्ते सअद बिन रबी (र.अ.), हुजूर (ﷺ) की दुआ का असर, इल्म हासिल करना जरूरी है, हर तरह की परेशानी से छुटकारा, शहादत की मौत मांगना, हलाल को हराम समझना गुनाह है, नेअमत देने में अल्लाह का कानून, कयामत किन लोगों पर आएगी, बुखार का इलाज, जब तुम्हारे पास किसी दीनदार शख्स के निकाह का पैगाम आएँ …

फसाद करने वालों पर गलबा पाने की दुआ

फसाद करने वालों पर गलबा पाने की दुआ

फितना व फसाद करने वालों पर गलबा पाने के लिये क़ुरआन की इस दुआ का एहतेमाम करना चाहिये: ۞ बिस्मिल्लाह-हिर्रहमान-निर्रहीम …

Read moreफसाद करने वालों पर गलबा पाने की दुआ

5. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

5. जमादी-उल-अव्वल | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). मुहाजिर व अन्सार में भाई चारा, (2). परिन्दों की परवरिश, (3). नेकियों का हुक्म देना और बुराइयों से रोकना , (4). रुकू में हाथों को घुटनों पर रखना, (5). औरत के लिये चंद आमाल, (6). इंसाफ न करने का वबाल, (7). दुनिया मोमिन के लिये कैदख़ाना है, (8). जन्नत के फल और दरख्तों का साया, (9). अजवा खजूर से ज़हर का इलाज, (10). अल्लाह तआला अद्ल व इंसाफ का हुक्म देता है।

3. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

3. रबी उल आखिर | सिर्फ़ 5 मिनट का मदरसा

(1). हुजूर (ﷺ) गारे हिरा में, (2). इंसान की हड्डियों में अल्लाह की कुदरत, (3). ज़कात अदा करना, (4). छींक आए तो मुंह पर कपड़ा या हाथ रख ले, (5). अपने घरवालों पर खर्च करने की फ़ज़ीलत, (6). तिजारत में झूट बोलने का गुनाह, (7). बद नसीबी की पहचान, (8). , (9). नींद न आने का इलाज, (10). अपनी औलाद को कत्ल न करो।