Browsing Category

हिंदी हदिस

Sharab se bacho kyunki wo har burayi ki chabi hai

शराब से बचो इसलिए क्यूंकि वो हर बुराई की चाबी है।

❝ शराब से बचो इसलिए क्यूंकि वो हर बुराई की चाबी है।❞अल्लाह के अंतिम पैगम्बर (ﷺ) (हदिस: मुस्तदरक: ७३१३)❝ Sharab se bacho isiliye kyunki wo har burayi ki chabi hai.❞Allah ke Rasool (ﷺ) (Hadith: Mustadrak: 7313)…
Read More...

दुआ इबादत है – तो इबादत के उसूल – हदीस की रौशनी में

♥ मह्फुम ऐ हदीस: हजरत अब्दुल्लाह इब्न अब्बास (रज़ि0) का बयान है कि एक दिन मैं अल्लाह के अन्तिम रसूल मुहम्मद (सलाल्लाहो अलैहि वसल्लम) के पीछे सवारी पर बैठा था कि आपने फऱमायाः ऐ बेटे! मैं तुम्हें कुछ बातें सिखाता हूं: अल्लाह को याद रख,…
Read More...

तलाक, हलाला और खुला की हकीकत (Talaq, Halala aur Khula Ki Hakikat)

Concept of Triple Talaq, Khula & Halala

• तलाक की हकीकत: यूं तो तलाक़ कोई अच्छी चीज़ नहीं है और सभी लोग इसको ना पसंद करते हैं इस्लाम में भी यह एक बुरी बात समझी जाती है लेकिन इसका मतलब यह हरगिज़ नहीं कि तलाक़ का हक ही इंसानों से छीन लिया जाए,पति पत्नी में अगर किसी तरह भी निबाह नहीं…
Read More...

नज़र का फ़ित्ना – अपनी नज़रे नीची रखे और अपनी शर्मगाहो की हिफ़ाज़त करें

नज़र एक ऐसा फ़ित्ना हैं जिस पर कोई रोक नही जब तक कोई इन्सान खुद अपनी नज़र को बुराई से न फ़ेर ले। अमूमन नज़र के फ़ित्ने से आज का इन्सान महफ़ूज़ नही क्योकि टीवी, अखबार, मिडिया के ज़रीये जिस तरह इन्सान के जज़्बात को जिस तरह भड़काने का मौका दिया जा रहा…
Read More...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More