Browsing Category

एक अहम् अमल के बारे में

एक अहेम अमल की फजीलत | Ek Aham amal ki Fazilat

1. मुहर्रमुल हराम सुबह के वक़्त दुआ पढ़ना नुकसान से बचने की दुआ दो महबूब कलिमे नमाज़ के बाद की तस्बीहात इस्लाम में बेहतर आमाल माहे मुहर्रम में रोज़ा रखना आशूरा के रोजे का सवाब दस्वीं मुहर्रम का रोज़ा माहे मुहर्रम…
Read More...

8. शव्वाल | सिर्फ पाँच मिनट का मदरसा (कुरआन व हदीस की रौशनी में)

इस्लामी तारीख: हज़रत खब्बाब बिन अरत (र.अ) हुजूर (ﷺ) का मोजिज़ा: फलों में बरकतएक फर्ज के बारे में: तकबीरे ऊला से नमाज़ पढ़ना एक सुन्नत के बारे में: छींक की दुआ एक अहेम अमल की फजीलत: खुशूअ वाली नमाज माफी का जरिया एक…
Read More...

जो कोई दिल से ‘अल्हम्दुलिल्लाही रब्बिल आलमीन’ कहेगा उसके लिए 30 नेकियां लिखी जाएगी

अलहम्दुलिल्लाह की फ़ज़ीलत - 30 नेकियां और 30 गुनाह मुआफ

🌟 रसूलअल्लाह (सलअल्लाहू अलैही वसल्लम) ने फरमाया : ❝जो कोई दिल से अल्हम्दुलिल्लाही रब्बिल आलमीन कहेगा (यानी ज़ुबान के साथ दिल से भी इसका यकीन हो की तमाम तारीफें अल्लाह के लिए हैं और वही सारे जहाँ का पालने वाला है) तो उसके लिए 30 नेकियां…
Read More...

Shaykh Abdul Qadir Jilani (R.A) ki imandari ka wakiya by Dr.Zakir Naik

शैख़ अब्दुल क़ादिर जिलानी (र.अ.) की ईमानदारी का इबरतनाक वाकिया

शैख़ अब्दुल क़ादिर जिलानी (र.अ.) की ईमानदारी और आपकी वालिदा की तरबियत का इबरतनाक वाकिया ।  डॉ.ज़ाकिर नाइक | बराए मेहरबानी इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करने में हमारी मदद करे. – जज़कल्लाहू खैरण कसीरा. |  Shaykh Abdul Qadir Jilani (R.A) ki imandari…
Read More...

अल्लाह और आखिरत(महा प्रलय) के दिन पर ईमान रखने वाले इन बातो पर जरुर ध्यान दे

✦ हज़रत अबू हुरैरह रज़िअल्लाहु अन्हु रिवायत करते हैं कि नबी सलल्लाहो अलैहि वसल्लम ने फरमाया “जो कोई भी अल्लाह और आखिरी दिन पर ईमान रखता है, वो दूसरों के साथ या तो भले तरीके से अच्छे अल्फाज़ मे बात करे, नहीं तो खामोश रहे, ! जो कोई भी अल्लाह…
Read More...

नज़र का फ़ित्ना – अपनी नज़रे नीची रखे और अपनी शर्मगाहो की हिफ़ाज़त करें

नज़र एक ऐसा फ़ित्ना हैं जिस पर कोई रोक नही जब तक कोई इन्सान खुद अपनी नज़र को बुराई से न फ़ेर ले। अमूमन नज़र के फ़ित्ने से आज का इन्सान महफ़ूज़ नही क्योकि टीवी, अखबार, मिडिया के ज़रीये जिस तरह इन्सान के जज़्बात को जिस तरह भड़काने का मौका दिया जा रहा…
Read More...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More