Browsing tag

Qurbani Ki Hikmat

Ashra Zul-hijjah mein qasrath se Karne waale Amaal

۞ Hadees: Sayyiduna Abdullah bin Omer (RaziAllahu Anhu) bayan karte hai ke RasoolAllah (ﷺ) ne farmaya: “In dino (Ashrah Zilhijjah, 1-10) se Zyadah azmat waale din aur in mein kiye gaye amaal se zyadah mahboob amal Allah Ta’ala ke nazdeek koi nahi, Lehaza tum in (10 dino) mein qasrat se Tahleel (La ilaha illallah) aur […]

जानिए – क्यों मनायी जाती है बकरी ईद

ईद उल अज़हा को सुन्नते इब्राहीम भी कहते है। इस्लाम के मुताबिक, अल्लाह ने अपने नबी(प्रेषित) हजरत इब्राहिम अलैहिस्सलाम की परीक्षा लेने के उद्देश्य से अपनी सबसे प्रिय चीज की कुर्बानी देने का हुक्म दिया। – हजरत इब्राहिम को लगा कि उन्हें सबसे प्रिय तो उनका बेटा है इसलिए उन्होंने अपने बेटे की ही बलि […]

जानिए- क्यों मनाई जाती ही क़ुरबानी ईद ? (क़ुरबानी की हिक़मत)

“कह दो कि मेरी नमाज़ मेरी क़ुरबानी ‘यानि’ मेरा जीना मेरा मरना अल्लाह के लिए है जो सब आलमों का रब है” – (कुरआन 6:162) *बकरा ईद का असल नाम “ईदुल-अज़हा” है, मुसलमानों में साल में दो ही त्यौहार मजहबी तौर पर मनाए जाते हैं एक “ईदुल फ़ित्र” और दूसरा “ईदुल अज़हा”,.. – ईदुल फ़ित्र […]