स्वामी विवेकानंद इस्लाम के बारे में – Swami Vivekananda about Islam

» NonMuslim View About Islam: स्वामी विवेकानंद (विश्व-विख्यात धर्मविद्)

“मुहम्मद(स.) साहब (इन्सानी) बराबरी, इन्सानी भाईचारे और तमाम मुसलमानों के भाईचारे के पैग़म्बर थे। … जैसे ही कोई व्यक्ति इस्लाम स्वीकार करता है पूरा इस्लाम बिना किसी भेदभाव के उसका खुली बाहों से स्वागत करता है, जबकि कोई दूसरा धर्म ऐसा नहीं करता। …

*हमारा अनुभव है कि यदि किसी धर्म के अनुयायियों ने इस (इन्सानी) बराबरी को दिन-प्रतिदिन के जीवन में व्यावहारिक स्तर पर बरता है तो वे इस्लाम और सिर्फ़ इस्लाम के अनुयायी हैं। …

*मुहम्मद(स.) साहब ने अपने जीवन-आचरण से यह बात सिद्ध कर दी कि मुसलमानों में भरपूर बराबरी और भाईचारा है। यहाँ वर्ण, नस्ल, रंग या लिंग (के भेद) का कोई प्रश्न ही नहीं। … इसलिए हमारा पक्का विश्वास है कि व्यावहारिक इस्लाम की मदद लिए बिना वेदांती सिद्धांत—चाहे वे कितने ही उत्तम और अद्भुत हों विशाल मानव-जाति के लिए मूल्यहीन (Valueless) हैं …” – @[156344474474186:]
– टीचिंग्स ऑफ विवेकानंद, पृष्ठ-214, 215, 217, 218) अद्वैत आश्रम, कोलकाता-2004

inspirational views islam in hindiIslamic Inspirational Quotes HindiNewsSwami VivekanandSwami VivekanandaTeachings of Vivekananda
Comments (2)
Add Comment
  • Taj

    Please try to make a option to convert it to Urdu or English, being a Urdu Language Student finding difficulties to read in Hindi

  • Arshiya fatima

    Mashallaha magar kiya AAJ KE musalmaan aise hai


Related Post


Fazail-e-Quraan: Part 6

# WAKIYA-3: Umar Bin Khattab (Razi’Allahi Anhu) Ke Talluk Se Riwayto me Aata Hai Ke ,.
Aap Khud…


Noorani Taaj

♥ Mafhoom-e-Hadees: Rasool'Allah (Sallallahu Alaihay Wasallam) Farmate Hai -
"Jisney Quraan Parha…


Islamic Quiz – 21

#Sawaal: Apne Baccho ko
Boli Sikhaane ka Aagaz
kis Baat Se Kare ?

• Options are –
A).…