अल्लाह ने सभी को अपने मज़हब का क्यों नहीं बनाया…?

» प्रश्न: अल्लाह ने सभी को अपने मज़हब का क्यों नहीं बनाया…?
» उत्तर: इसका उत्तर क़ुरआन ने विभिन्न स्थानों पर दिया है क़ुरआन में कहा गयाः
∗ अल-कुरान : “[ऐ मुहम्मद(सलल्लाहो अलैहि वसल्लम)] यदि आपका रब चाहता तो सब लोगों को एक रास्ते पर एक उम्मत कर देता, वे तो सदैव मुखालफ़त करने वाले ही रहेंगे। सिवाए उनके जिन पर आपका रब दया करे, उन्हें तो इसी लिए पैदा किया है। ” – (सूरः हूद 118) यही विषय सूरः यूनुस 96,सरः माईदा 48,सूरः शोरा 8,सूरः नहल 93 और अन्य विभिन्न आयतों में बयान किया गया है।

यह संसार परीक्षा-स्थल है परिणाम स्थल नहीं। यहाँ हर व्यक्ति को एक विशेष अवधि के लिए बसाया गया है ताकि उसका पैदा करने वाला देखे कि कौन अपने रब की आज्ञाकारी करके उसका प्रिय बनता है और कौन उसकी अवज्ञा करके उसके प्रकोप का अधिकार ठहरता है। इसके लिए उनसे संदेष्टाओं (नबी/रसूल) द्वारा अपना संदेश भेजा और सत्य को खोल खोल कर बयान कर दिया है।
फिर इनसान को उसे अपनाने की आज़ादी भी दे दी है कि चाहे तो उसके नियम को अपना कर उसके उपकारों का अधिकार बने और चाहे तो उसके नियमों का उलंधन कर के उसके प्रकोप को भुगतने के लिए तैयार हो जाए। यही है जीवन की वास्तविकता। इस बिन्दु को क़ुरआन की यह आयत स्पष्ट रूप में बयान करती हैः
∗ अल-कुरान : “और यदि आपका रब चाहता तो धरती के सभी लोग ईमान ले आते, तो क्या आप लोगों को ईमान लाने के लिए मजबूर करेंगे” – (सूरः यूनुस 99 : @[156344474474186:]).

MajhabMukhalifatRab
Comments (9)
Add Comment
  • Majid

    اسلام عليكم ورحمة الله وبركاته

    मुझे एक बात समझ नहीं आती कि जब अल्लाह के पास हर बात का इल्म तो फिर ये क्यों कहते हैं कि मैे तुम्हें आजमाउंगा ताकि मैं जान लू के कौन अच्छे अमल करता है कौन बुरे। क्या इससे यह बात साबित नहीं होता है कि अल्लाह को भी अच्छा और बुरा लोग का पता नहीं??

    • Mohammad Salim (Admin)

      Allah tou Har cheez ka ilm rakhta hai,.
      mazi aur mustakbil Allah se poshida nahi,.
      lekin Alah hume batana chahta hai ke hum kitne nek hai aur kitne badd,..
      humne musibat aur aazmaish par kitna sabr kiya aur kitna dunia ke aage jhuk gaye..

      • माजिद

        लेकिन अल्लाह कहता है कि ” ताकि मैं जान लूँ कि तुम में से कौन अच्छे अमल करता है ”
        यहाँ अल्लाह जानना चाहता है

    • Mohammad Rameez Ali

      ALLAH Apne Har ek bade Ke Saare Haal se BaKhabar Hai…ALLAH ko Insaan Ki Har Ek Soch Ka Pata hai ….Kaun Kab Kya Karega Sab pata hai…. ALLAH Kisi Ki Aazmaish Sirf Isliye Leta Hai Ki us bande Ko ALLAH Pak ka Qurb (सममिपता) Haasil ho Jaye….

    • Gufran ahmad

      Bhai majid phle to mai ye khna chahunga ki aap ek musalman hokr allah aur uski zat pr shk kr rhe hai. Apke khme ke hisab se agar dekhe to duniya bnni ji nhi chahiye thi kyuki ek din khtm joni kaise honi hai wo allah ko pta hai to bnata ji kyu apko hme ida hi kyu krta lkn usne apko paida kiya. Ab ye bta du ki allah ne duniya me sbse smjhdar insan ko hi bnaya hai fir agr use sbko jhannam me ya sbko jnnt me bhejna sirf ek mksd hota to wo hme janwr kyu na paida krta.
      Beshk allah janta hai ki hme jnnt jana hai ya jahannam lekin usne hme diniya me bheja azmaaish ke liye isiliye usne hmef thinking di ki hm soch skee kya shi kya galat usne apko ek mauka diya hai.
      Yhi uske khne ka mtlb hai jo apne upr kha hai.
      Mafi chahunga agr kuch bura kh diya ho to allah hm sbko maf frmaye ameeen
      Yhi pr jate hue so sorry mai apko salam n8 kr skta kyiki hazooore akram hmare pyare nbi allah ke rasool ka farman hai ki jo allah aur uski zat pr shk kre wo kafir hai aur kafir ko salam ni kiya jata.
      Ya allah hmare majid bhai ko itni smjh ata farma ki wo hmari bt smjh paye

    • Hajrat Alam

      Nihayat hi bewkuf ho tum ek muslim ho lar Allah par questions allah tumhe maaf kare

  • Jafar Ahmad

    Mash allah

  • Adnan Rashid

    Allah pak ne insaano ko dunia me bhejne se phele sari ruhoo ko aalame-arwha me phucha tha ke tumhara rab kon Hai to sbhi ruhoo ne kha tha hamare rab aap Ho kyuke waha par un ruhoo ke Samne sab Kuch tha jannat jhannum.or phir unhe dunia me bheja jahan gaflat, baimaani, dhoka,zinna,budhparasti etc. Jo ke sab galat kaam Hai.to ye baat sahi Hai ke Allah sab janta Hai usko har cheez ka ilm Hai to yaha dunia me hame aakr khud hi jayaz or najayaz baatoo ka pata Karna Hai or Allah or uske rasool pr Imaan lana Hai.allah pak ye dhekna chahta Hai ke Kya ye banda sahi baato per amal karega ya gaflat ki zindagi jiyega kyuke Allah pak ne insaan ko akal di Hai or ashraful makhlukat banaya hai.

  • Aftab Alam

    As salamo alaikum wa rahmatullahe wa barkatahu
    Mera Ek sawal hai jinnat aag se bana hai jo jinnat jahannam me jayega kya aag ko aag me fark padega Chunki jahana me aag hai jinnat bhi aag ka bana hai
    Plz sahi hadish se mujhe samjhaye


Related Post


Namaz Ki Niyyat:

Rasool'Allah (ﷺ) Ne Farmaya:
‘Amalo’n Ka Daromadar Niyyato’n Par Hai.’
- (Bukhari: Bida Al Wahee 1…