Kuffaro ki Mushabiyat me Shirqat | Post 12 | Islam aur Humara Ghar

कुफ्फारों की मुशाबियत में शिरकत » पोस्ट 1⃣2⃣ » इस्लाम और हमारा घर

पोस्ट 1⃣2⃣

“इस्लाम और हमारा घर”

कुफ्फारों की मुशाबियत में शिरकत

अल्लाह के रसूल ﷺ ने फ़रमाया:
“जो किसी क़ौम से मुशाबहत इख़्तियार करे वो उन्हीं में से है।”

( अबूदाऊद ) रावी: इब्ने उमर
(मोजमुल वसीत: हुज़ैफा रज़िअल्लाहु अ़न्हु)
( स़ही़ह़ अल जामे 6149) (स़ही़ह़)

सिरीज » इस्लाम और हमारा घर

——J,Salafy✒——

▪शेयर करें▪

जिस शख़्स ने किसी नेकी का पता बताया, उसके लिए (भी) नेकी करने वाले के जैसा अजर हैं।
(स़ही़ह़ मुस्लिम: ज़ी. 3, हदीस 4665)

Ahadees in HindiBeautiful Hadees in HindiBest Hadees in HindiBest Islamic Hadees in Hindi LanguageBest Islamic Quotes in HindiJ.Salafyइस्लाम और हमारा घरमुशाबियतहदीस की बातें हिंदी में


Recent Posts