Kuch badi Baat thi jo hotey Musaman bhi Ek

कुछ बड़ी बात थी जो होते तुम सब मुसलमान भी ऐक

सीरिया , बर्मा, पलेस्थिन और दुनीया के किसी भी कोने में कोई मुसलमान क़त्ल कर दिया जाता है तो कोई नहीं पूछता के वो किस फिरके का था , बरेलवी था, अहले हदीस या देओबंदी था ,. मसलक क्या था उसका ? कही फलाह और फलाह का मुरीद तो नहीं था ,. बल्कि सबने रोकर उनकी तकलीफ का इजहार किया

इसी तरह कोई मुसलमान साइंस में कोई महारत हासिल कर ले तो सबको ख़ुशी होती है ,. कोई भी उसके जमात और फिरके का खयाल नहीं करता ,.

लेकिन जब इबादत का मसला आता है तो हम आपस में गिरोह और फिरको में बाट लेते है, छोटी छोटी बातो पर  इख्तेलाफ़ करने लग जाते है ,.. नतीजतन जालिम हुकुमराह हमपर मुसल्लत होते है ,..

*इसी बात को अल्लामा इकबाल अपने अशार में कहते है –
मंनफियत (नफा) एक है इस कौम का नुकसान भी एक ,
एक ही सबका नबी, दींन भी, ईमान भी एक |
हरमे पाक भी, अल्लाह भी, कुरान भी एक ,
कुछ बड़ी बात थी जो होते तुम सब मुसलमान भी ऐक |

♥ इंशा’अल्लाह-उल-अज़ीज़ !
– अल्लाह रब्बुल इज्ज़त हम सबको एक और नेक बनाये ,..
– हमे सिरते मुस्तकीम पर चलाये (अमीन अल्लाहुम्मा अमीन)

Ahadees in HindiAhadit in HindiAll Hadees in Hindi ImagesAllah bhi ek Quran bhi ekAllama iqbal poetry in urduBeautiful Hadees in HindiBest Hadees in HindiBest Hadith in Hindi for Whats AppBest Islamic Hadees in HindiBest Islamic Quotes in HindiBest Islamic Status for Whatsapp in HindiBest Islamic Status in HindiBest Muslim Status in HindiDr. Allama IqbalHadees ki Baatein in Hindiislam aur scienceIttehadKuch Badi Baat thi Jo Hotey Musalman bhi ekKuchh Bari Baat Thi Hote Jo Musalman Bhi EkManfaat Aik hai is Qaum kiMuttaqiइस्लामिक शायरी हिंदी मेंइस्लामिक हिंदी शायरीकुछ बड़ी बात थी जो होते मुसलमान भी एकमुस्लिम शायरी हिंदी मेंहिंदी इस्लामिक शायरीहिंदी समस इस्लामिक शायरी
Comments (1)
Add Comment
  • faizan

    fitne ki aag to TumNe lagaye hai abdul wahab najdi ne


Related Post