किसी मोमिन (आस्तिक) के लिए ये उचित नहीं कि उसमें लानत करते रहने की आदत हो।

पैग़म्बर मुहम्मद ने फरमाया:

“किसी मोमिन (आस्तिक) के लिए ये उचित नहीं कि उसमें लानत करते रहने की आदत हो।

📕 तिरमिज़ी

Source: islamshantihai.com

Ahadees in HindiAll Hadees in Hindi ImagesBeautiful Hadees in HindiBest Hadees in HindiDaily HadeesFree Islamic Hadees SmsHadees e Nabvi in HindiHadees e Rasool in HindiHadees in HindiHadees Quotes in Hindi


Recent Posts


Kyu Humesha Musalmano ko fasaya jata hai?

जानिए - दुनिआ में कही भी कोई हादसा हो तो इल्ज़ाम हमेशा मुसलमानो पर ही क्यों लगाया जाता है